इस एंड्रॉयड मालवेयर ने हैक किए गूगल के लाखों अकाउंट

Punjab Kesari

जालंधरः "मालवेयर" का ज्यादातर उपयोग कंप्यूटर से संवेदनशील जानकारी चुराने के लिए किया जाता है, जो पहले धीरे-धीरे आपके कंप्यूटर को धीमा करता है या आपकी जानकारी के बिना आपके ईमेल खाते से जाली ईमेल भी भेज सकता है। वहीं सुरक्षा फर्म चेक प्वाइंट साफ्टवेयर टेक्नोलाजीज के अनुसार एंड्रायड मालवेयर ‘गूलीगन’ ने गूगल के 10 लाख से ज्यादा अकाउंट हैक कर लिए है।   



फर्म का कहना है कि ‘गूलीगन’ एंड्रायड मालवेयर का एक नया संस्करण है। जो एंड्रॉयड 4.0 और 5.0 पर चल रहें 74 प्रतिशत मोबाइल डिवाइस को अपना निशाना बना रहा है। इस मालवेयर के जरिए जीमेल, गूगल फोटो, गूगल प्ले व गूगल डाक्स से उपयोक्ताआें की जानकारी चुराई जा सकती है। गूगल ने इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं की है।



चेक प्वाइंट के अनुसार, पिछले साल रिसर्चर द्वारा Gooligan कोड की खोज की गई थी और इसके नए वेरिएंट ने अगस्त 2016 में 13,000 डिवाइसिस को प्रभावित  किया था। जिनमें से 57 प्रतिशत डिवाइस एशिया और 9 प्रतिशत यूरोप में स्थित थे।