एडल्ट फ्रैंड फाइंडर के 300 मिलियन अकाऊंट्स हुए लीक

Punjab Kesari

जालंधर : इंटरनैट पर कोई भी जानकारी हैकरों से सुरक्षित नहीं है। इसका नया उदाहरण हाल ही में हैक हुई डेटिंग सर्विस से मिलता है। एडल्ट डेटिंग सर्विस कम्पनी एडल्ट  फ्रैंड फाइंडर नैटवर्क हैकरों का शिकार हुई है। 

इससे 412 मिलियन अकाऊंट्स, ई-मेल एड्रैस और पासवर्ड क्रिमिनल मार्कीट प्लेस पर उपलब्ध करवाए गए हैं। गौर करने योग्य है कि इस डाटाबेस में ज्यादा निजी जानकारी नहीं है लेकिन अकाऊंट्स, ई-मेल एड्रैस और पासवर्ड का लीक होना बड़ी बात है। उल्लेखनीय है कि एक अन्य हैक में मई 2015 में भी 3.5 मिलियन यूजर्स के अकाऊंट्स प्रभावित हुए थे।

ब्रिच नोटिफिकेशन वैबसाइट ‘लीक्डसोर्स’ ने सबसे पहले इसकी जानकारी दी और बताया कि 300 मिलियन एडल्ट फ्रैंड फाइंडर अकाऊंट प्रभावित हुए हैं जिनमें से 60 मिलियन अकाऊंट्स कैम्स डॉट कॉम से हैं। अन्य कम्पनी होल्डिंग जैसे पैंटहाऊस, स्ट्रिपशो और आईकैम्स भी हैॉकिंग का शिकार हुई हैं और 412,214,295 यूजर्स प्रभावित हुए हैं।

इसमें यह जानकारी भी सामने आई है कि 15 मिलियन अकाऊंट्स की जानकारी रखी गई है जिन्हें यूजर्स ने डिलीट कर दिया है। इसके साथ ही उन यूजर्स की जानकारी भी है जो अब उपलब्ध नहीं है। सी.एस.ओ. ऑनलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक एक सिक्योरिटी रिसर्चर ने अक्तूबर में इस वैबसाइट की लोकल फाइल इंक्लूजन में कमजोरियां पाई थीं। 

फ्रैंड फाइंडर नैटवर्क के वाइज प्रैजीडैंट और सीनियर काऊंसिल ऑफ कॉर्पोरेट कम्प्लायंस एंड लिटिगेशन Diana Lynn Ballou ने सी.एस.ओ. ऑनलाइन को एक बयान दिया जिसमें लिखा था कि हमें इस सिक्योरिटी घटना की जानकारी है और इसकी जांच कर रहे हैं। 

यूजर डाटा 
लीक्ड सोर्स के मुताबिक फ्रैंड फाइंडर नैटवर्क ने सादे दिखाई देने वाले फार्मेट और सिक्योर हैश एल्गोरिथ्म 1 (एस.एच.एस.-1) में यूजर्स के पासवर्ड सेव किए हैं जिन्हें सुरक्षित नहीं माना जाता है।