लोगों को गुमराह कर रहा है बजाज पल्सर का टीवी विज्ञापन

Punjab Kesari

जालंधर : भारत की वाहन निर्माता कंपनी बजाज के लोकप्रीय पल्सर व ब्रिजस्टोन ईकोपिया टायर्स के टीवी कमर्शल्स पर भ्रमित करने का आरोप लगा है। विज्ञापनों के मानक तय करने वाली काउंसिल (ASCI) ने गुरुवार को इन दोनों ब्रैंड्स द्वारा प्रसारित टीवी विज्ञापनों पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया है। काउंसिल द्वारा जारी की गई 100 विज्ञापनों की लिस्ट में ऑटोमोबाइल सेक्टर के ये 2 ब्रैंड्स शामिल हैं।

Bajaj Pulsar, Pulsar Ad mislead, Advertising Standards Council of India, ASCI

बजाज का डिस्क्लेमर -

बजाज पल्सर की ऐड में डिस्क्लेमर कह रहा है कि कमर्शल में दिखाए गए स्टंट्स खाली जगहों पर और पूरे नियंत्रण के साथ किए गए हैं, जबकि ऐड में स्टंटमैन सार्वजनिक और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर ऐसा कर रहे हैं।

pulsar212


ब्रिजस्टोन के टायर ईको-फ्रेंडली नहीं -

ब्रिजस्टोन इंडिया की ऐड पर आरोप है कि उसमें टायर को 'ईको-फ्रेंडली' बताया गया है, लेकिन उसके पीछे कोई सटीक तर्क नहीं है। उल्लेखनीय है कि इन दोनों कंपनियों के अलावा ASCI की लिस्ट में हेल्थ, ऐजुकेशन और खाद्द पदार्थों समेत कई सेक्टरों से जुड़े विज्ञापन भी शामिल किए गए हैं।