भारत में मिलने वाली बैस्ट Hatchback Cars

Punjab Kesari

जालंधर : इंटरनैशनल मार्कीट से तुलना करें तो कार खरीदने के मामले में भारतीय खरीदार बहुत अलग हैं। यहां पर लोग लग्जरी इक्विपमैंट्स और इंजन परफार्मैंस की तुलना में इस बात पर ध्यान देते हैं कि कार उनके बजट में हो। एंट्री लैवल कार मार्कीट में बहुत-सी कारें उपलब्ध हैं जो नए डिजाइन व बेहतरीन फीचर्स के साथ आती हैं। इसके अलावा कुछ पुरानी कारें नए रूप में अभी भी लोकप्रिय हैं। आइए जानते हैं 2016 की बैस्ट हैचबैक कारों के बारे में -

Maruti Suzuki Baleno

1483101565_Maruti Suzuki Baleno.jpg

मारुति सुजुकी बलेनो ने इस वर्ष भारत में बहुत सुॢखयां बटोरी हैं। अगर आप स्विफ्ट से अच्छा विकल्प चाहते हैं तो वह बलेनो है। स्टाइलिश एक्सटीरियर फीचर्स और स्मार्ट उपकरणों से लैस बलेनो के टॉप वेरिएंट में स्मार्टप्ले इनफोटेनमैंट सिस्टम, स्मार्टफोन कनैक्ट/एप्पल कार प्ले, स्मार्टफोन के जरिए रिमोट कंट्रोल असैस मिलता है। इसके अलावा डुअल एयरबैग्स इस कार में स्टैंडर्ड हैं। इसमें 1.2 लीटर पैट्रोल और 1.3 लीटर डीजल इंजन लगा है जो 5 स्पीड मैनुअल और सी.वी.टी. ट्रांसमीशन के साथ आता है।

Tata Tiago

1483101616_tata-tiago.png

इंडिका प्लेटफार्म पर आधारित टाटा टियागो जहां बाहर से देखने पर आकर्षक लगती है, वहीं इस कार के अंदर लगे प्लास्टिक की क्वालिटी भी बढिय़ा है। इसमें फस्र्ट इन क्लास फीचर्स जैसे जूक एप, मल्टी-ड्राइव मोड्स (ईको और सिटी) दिए गए हैं।  टियागो में 1.2 लीटर रेवोट्रोन पैट्रोल और 1.05 लीटर रेवोटॉर्क डीजल इंजन लगा है। यह 5 स्पीड मैनुअल गियर बॉक्स के साथ आती है।

Renault Kwid

1483101674_renault-kwid.jpg

एंट्री लैवल कार मार्कीट में क्विड के साथ रेनो ने एक अलग जगह बना ली है। यह नए सी.एम.एफ.-ए प्लेटफार्म पर आधारित है और देखने में स्टाइलिश है। इसमें बहुत से बैस्ट इन क्लास फीचर्स दिए गए हैं जिसमें टच स्क्रीन इनफोटेनमैंट सिस्टम, 300 लीटर का बूट स्पेस, 180 एम.एम. का ग्राऊंड क्लियरैंस, डिजिटल इंस्ट्रूमैंट कलस्टर और कैबिन में अच्छा स्पेस मिलता है। क्विड में 799 सी.सी. पैट्रोल इंजन लगा है जो 53 बी.एच.पी. की पावर और 72 एन.एम. का टार्क पैदा करता है। क्विड को 1.0 लीटर इंजन वेरिएंट में भी लांच किए जाने की तैयारी की जा रही है।

Hyundai Elite i20

1483101735_hyundai-elite-i20.jpg

इस सैगमैंट में बहुत से लोग आई20 को प्राथमिकता देते हैं। हालांकि यह कार अन्य कारों से महंगी है लेकिन इसमें दिए गए फीचर्स उस कमी को पूरा कर देते हैं। Fluidic Sculpture 2.0 पर आधारित इलीट आई20 बैस्ट इन क्लास एक्सटीरियर स्टाइङ्क्षलग के साथ आती है। 

कार के इंटीरियर की बात करें तो इसमें अच्छी स्पेस और इक्विपमैंट्स जैसे टचस्क्रीन इंफोटेनमैंट सिस्टम, मल्टी फंक्शनल स्टेयरिंग व्हील, की-लैस एंट्री, स्टार्ट स्टॉप इंजन बटन इसे बैस्ट हैचबैक की लिस्ट में शामिल करते हैं। इसमें 1.2 लीटर काप्पा डुअल वी.टी.वी.टी. पैट्रोल और 1.4 लीटर यू2 सी.आर.डी.आई. डीजल इंजन का ऑप्शन मिलता है। 

दोनों इंजन ऑप्शन्स में 5 स्पीड मैनुअल और डीजल इंजन में 6 स्पीड मैनुअल गियर बॉक्स का ऑप्शन मिलता है।

Maruti Suzuki Swift

1483101855_swift.jpg

पिछले कई वर्षों से यह कार लोगों के दिलों में बसी हुई है। समय के साथ-साथ इसके डिजाइन में बहुत से बदलाव देखने को मिले हैं और अब ऐसी उम्मीद है कि अगले वर्ष स्विफ्ट में ऑटोमैटिक ट्रांसमीशन देखने को मिलेगा। स्विफ्ट के टॉप वेरिएंट में ड्राइवर और को-पैसेंजर एयरबैग्स स्टैंडर्ड ऑप्शन के तौर पर मिलते हैं। इसमें 1.2 लीटर, के-सीरीज वी.टी.वी.टी. पैट्रोल इंजन और 1.3 लीटर मल्टी जैट इंजन 5 स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन के साथ आता है।