BMW भारत में उतारेगी नए मॉडल्स, करेगी 125 करोड़ रुपए का निवेश

Punjab Kesari

जालंधरः जर्मन लग्जरी कार मेकर बीएमडब्ल्यू ग्रुप ने 2 साल की गिरावट के बाद अपने भारतीय कारोबार में साल 2016 के दौरान डबल डिजिट में ग्रोथ दर्ज की। कंपनी ने इस साल भी रफ्तार बनाए रखी है। मई तक उसने 8 फीसदी ग्रोथ हासिल की। इस तरह उसने सबसे तेजी से बढ़ते लग्जरी कार ब्रांड का तमगा अपने पास बनाए रखा है। 

कार कंपनी ने इंडिया में 125 करोड़ रुपए के नए निवेश की योजना बनाई है। इससे वह देश के नए इलाकों में कारोबार बढ़ाएगी और 2017 में नई 5 सीरीज जैसे नए जेनरेशन के प्रॉडक्ट्स पेश करेगी। इस साल जनवरी से मई के बीच कंपनी ने 3533 कारें बेचीं। 2016 में उसने 14 फीसदी ग्रोथ दर्ज की थी और 7800 कारें बेची थीं। 

बीएमडब्ल्यू ग्रुप इंडिया की कमान संभालने के बाद इसके एमडी और सीईओ विक्रम पावा ने कहा था कि कंपनी ने 'पावर टू लीड' स्ट्रैटिजी बनाई है और भविष्य में भी प्रदर्शन का स्तर बढ़ाती रहेगी। पावा ने कहा, 'हमने पिछले साल दिखा दिया कि डिमॉनेटाइजेशन, एनसीआर में डीजल कारों पर बैन, लग्जरी कार टैक्स की चुनौतियों के बावजूद हम डबल डिजिट्स में ग्रोथ दर्ज कर सकते हैं। इस साल के पहले पांच महीनों में भी हमने बिना कोई नया प्रॉडक्ट ऑफर किए हुए ग्रोथ हासिल की है। लिहाजा ग्रोथ तो बढ़नी ही है।' 

नी प्रॉफिटेबिलिटी के अलावा नई टैक्नॉलजी, प्रॉडक्ट्स लाने, डीलर नेटवर्क बढ़ाने, कस्टमर्स के साथ जुड़ने और कुल मिलाकर वॉल्यूम्स में इजाफा करने पर फोकस करेगी। मौजूदा प्रॉडक्ट्स और नए वेरिएंट्स में लाइफसाइकल चेंज लाने के अलावा बीएमडब्ल्यू इंडिया एक पखवाड़े में नई 5 सीरीज लांच करेगी, जिसका इसके एनुअल वॉल्यूम्स में 30 फीसदी योगदान रहा है।

कंपनी ने नई 5 सीरीज को इंडिया में तैयार करने का प्लान बनाया है। इस तरह इंडिया में बने उसके मॉडल्स की संख्या 8 हो जाएगी, जो उसके पोर्टफोलियो का करीब आधा हिस्सा है। बीएमडब्ल्यू 2018 में अपने इंडिया में बनने वाले प्रॉडक्ट्स की फेहरिस्त में नई 6 सीरीज ग्रैन टूरिज्मो को शामिल करेगी।