हैक प्रूफ होंगे नेक्स्ट जनरेशन के कम्प्यूटर्स

Punjab Kesari

जालंधर: नई पीढ़ी के कम्प्यूटर हैक प्रूफ होंगे। वैज्ञानिकों ने हाई डायमैंशियल क्वांटम क्लोनिंग मशीन निर्मित की है जोकि सुरक्षित संदेशों को बीच में रोक सकती है। यह तकनीक नई पीढ़ी के कम्प्यूटरों को हैकिंग के खतरे से सुरक्षित रखने में मदद करेगी।

परम्परागत कम्प्यूटर प्रणाली की सुरक्षा के लिए बिनैरी चिन्हों का प्रयोग किया जाता है। हैकरों से बचने के लिए यह तकनीक अच्छी नहीं है। कनाडा स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ ओटावा के प्रो. इब्राहिम करीमी ने कहा कि एक बार हम परिणामों का विश्लेषण करने योग्य हो गए तो महत्वपूर्ण सूत्र की खोज कर लेंगे जोकि क्वांटम कम्प्यूटिंग नैटवर्क को हैकिंग से बचाने में सुरक्षा देगा। इस खोज से जुड़ी टीम ने पहली बार फोटानों के क्लोन को तैयार किया है जिसे क्यूबिट्स के रूप में जाना जाता है।