5G में चीन के बढ़ते कदम

  • 5G में चीन के बढ़ते कदम
You Are HereLatest News
Sunday, December 17, 2017-12:21 AM

नई दिल्ली: देश में 5वीं पीढ़ी की दूरसंचार प्रौद्योगिकी (5जी) को वाणिज्यिक तौर पर 2020 तक शुरू करने की तैयारी चल रही है। लोगों से लोगों के बीच संचार के अलावा इसका विस्तार एप्लीकेशन को थिंग्स (इंटरनैट ऑफ  थिंग्स) से जोडऩे तक होगा। 

नैटवर्क  गीयर बनाने वाली चीन की प्रमुख कम्पनी हुआवेई टैक्नोलॉजीज का कहना है कि 5जी प्रौद्योगिकी को शुरू करने के शुरूआती दिनों में इंटरनैट कनैक्टिविटी में तेजी आएगी जो कहीं अधिक सस्ती दरों पर होगी। चीन इस ओर बड़ी तेजी से कदम बढ़ा रहा है। हुआवेई के वायरलैस विपणन निदेशक इमैनुअल कोएल्हो अल्वेस ने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि वाणिज्यिक तौर पर 5जी के शुरू होने से आप्रेटरों को अपनी मौजूदा डाटा उत्पादन लागत को घटाकर 10 प्रतिशत करने में मदद मिल सकती है। हालांकि यह करियर बैंडविड्थ और मैसिव एम.आई.एम.ओ. जैसी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल जैसे कारकों पर निर्भर करेगा।’’ 

5जी नैटवर्क  के लिए बुनियादी ढांचा का तैयार होना शुरू
5जी नैटवर्क में निवेश के संबंध में अल्वेस ने कहा कि यह एक क्रमिक प्रक्रिया है और 4जी के दौर से ही 5जी नैटवर्क के लिए बुनियादी ढांचा तैयार होना शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि यह आप्रेटरों की कारोबारी योजना पर निर्भर करेगा कि वे एकल अथवा गैर-एकल नैटवर्क का इस्तेमाल करेंगे लेकिन हमारा मानना है कि वे अपने निवेश के मौजूदा स्तर पर वर्तमान नैटवर्क  बुनियादी ढांचे को 5जी के लिहाज से भविष्य के लिए तैयार हो सकते हैं।’’ भारत में मोबाइल आप्रेटर मुख्य तौर पर 4जी नैटवर्क के लिए बुनियादी ढांचा तैयार करने पर वाॢषक औसतन 50 से 60 हजार करोड़ रुपए निवेश कर रहे हैं।

बढ़ जाएगा डाटा का उपयोग
एरिक्सन की रिपोर्ट के मुताबिक 2023 तक मोबाइल डाटा ट्रैफिक 110 एक्साबाइट प्रति महीना हो जाएगा। 110 एक्साबाइट डाटा 55 लाख साल तक देखी जा सकने वाली एच.डी. फिल्म के बराबर होता है। 2017 के अंत तक उत्तरी अमरीका में हर महीने औसत 70 जी.बी. डाटा का उपयोग होगा। 

2023 तक 100 करोड़ 5जी ग्राहक होंगे: एरिक्सन
भारत में अभी टैलीकॉम कम्पनियां 4जी सेवाओं पर जोर दे रही हैं, पर क्या आपको मालूम है कि 6 साल बाद पूरी दुनिया में 100 करोड़ 5जी सेवा के ग्राहक होंगे। एरिक्सन मोबिलिटी की रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया की 20 प्रतिशत जनसंख्या 2023 तक 5जी के दायरे में आ जाएगी। कम्पनी के मुताबिक 5जी न्यू रेडियो पर आधारित पहली कमर्शियल नैटवर्क  की सेवा 2019 से लाइव हो जाएगी। शुरू में अमरीका, दक्षिण कोरिया, जापान और चीन में 5जी सेवा शुरू होगी। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन