कैंसर कोशिकाओं का पता लगाएगी 3D तकनीक

Punjab Kesari

जालंधर: दुनिया भर में हर साल कैंसर की वजह से करोड़ों लोगों की मौत हो रही है। ऐसे में शोधकर्त्ताओं ने खून में कैंसर कोशिकाओं का पता लगाने और हमेशा के लिए उन्हें बाहर निकालने की 3D तकनीक विकसित कर ली है। यह खोज कई मायनों में काफी अहम साबित हो सकती है।

सर्कुलेटिंग ट्यूमर सैल्स (सी.टी.सी.) ऐसी कोशिकाएं होती हैं जो शुरूआती चरण के ट्यूमर से निकलती हैं और रक्तसंचार के जरिए शरीर के अन्य हिस्सों में फैल जाती हैं। इस शोध के प्रमुख वैज्ञानिक जयंत खंडारे और शाश्वत बनर्जी ने कहा, ‘‘कैंसर की हजारों कोशिकाएं शुरूआती चरण के ट्यूमर से जुड़ी होती हैं और रक्त संचार के जरिए अन्य अंगों में पहुंच जाती हैं। यह शरीर के अन्य अंगों में कैंसर के फैलने का मुख्य कारण है और इसे ‘मेटास्टेसिस’ कहते हैं और कैंसर के 90 प्रतिशत मरीजों की मौत का असल कारण यही है।’’