सूजन का इलाज करने में मदद करेगा यह प्रैशर सैंसर

  • सूजन का इलाज करने में मदद करेगा यह प्रैशर सैंसर
You Are HereLatest News
Wednesday, January 24, 2018-10:37 AM

जालंधर : मरीज के दिमाग में आई सूजन का इलाज करने के लिए ज्यादातर डॉक्टर्स सैंसर्स का प्रत्यारोपण करते हैं, लेकिन इन्हें इलाज के बाद शरीर से बाहर निकालना पड़ता है जिससे समय तो ज्यादा लगता ही है साथ ही रोगी को इन्फैक्शन होने का भी खतरा बढ़ जाता है। इसी बात पर ध्यान देते हुए एक ऐसे घुलने वाले प्रैशर सैंसर को बनाया गया है जो सूजन होने या दबाव पड़ने पर इलैक्ट्रिकल सिग्नल पैदा करेगा, जिसका शरीर से बाहरी मानीटरिंग डिवाइस से पता लगाया जा सकेगा। 

 

इस प्रैशर सैंसर को यूनिवर्सिटी ऑफ कनैक्टिकट के शोधकर्ताओं की टीम द्वारा बनाया गया है। उन्होंने बताया है कि बायो कम्पैटीबल मैटीरियल्स से बने इस सैंसर को US फूड और ड्रग एडमिनिस्ट्रेटर द्वारा प्रमाणित किए गए सर्जरी व मैडीकल इलाज में उपयोग में लाए जाने वाले मैटीरियल से बनाया गया है। 

 

इन बीमारियों का इलाज करने में मिलेगी मदद

इस प्रैशर सैंसर से दिमाग, आंख के पिछले हिस्से और पेट का इलाज करने में मदद मिलेगी। माना जा रहा है कि इससे पुरानी फेफड़ों की बीमारी का भी इलाज किया जा सकेगा। फिलहाल इस प्रैशर सैंसर के 5 मिलीमीटर्स लम्बे व 5 मिलीमीटर चौड़े साइज वाले प्रोटोटाइप को पहली बार दुनिया के सामने दिखाया गया है जिसकी मोटाई 200 माइक्रो मीटर्स बताई गई है। 

 

दो लेयरों से बनाया गया सैंसर

इस प्रैशर सैंसर को पीज़ोइलैक्ट्रिक पोली (L-लैक्टाइड) की दो लेयरों से बनाया गया है। इन लेयरों को मोलीबडैनम इलैक्ट्रोड्स व पोलीलैक्टिक एसिड के बीच रखा गया है। यह सैंसर थोड़ा-सा भी प्रैशर पड़ने पर कम मात्रा में इलैक्ट्रिक चार्ज पैदा करता है जिससे डॉक्टर को सूजन की सटीक जानकारी मिलती है। 

 

चूहे पर सफल रहा टैस्ट

इस प्रैशर सैंसर का फिलहाल चूहे पर टैस्ट किया गया है। इसका चूहे के पेट के अंदर प्रत्यारोपण किया गया जिससे पेट के अंदरूनी भाग में सूजन का पता लगाया गया है। शोधकर्ताओं ने बताया है कि इस टैस्ट के दौरान चूहे के पेट की सूजन को 4 हफ्तों में ठीक किया गया है। इस टीम का नेतृत्व कर रहे वैज्ञानिक थानह डुक नगुयैन ने कहा है कि आमतौर पर मैडीकल सैंसर्स मुलायम टिश्यू और शारीरिक अंगों के अंदर लगाए जाते हैं लेकिन जब इन्हें बाहर निकाला जाता है तो इनसे अतिरिक्त नुक्सान हो सकता है। हमने यह जाना कि अगर हम एक ऐसा सैंसर बनाएं जिसे निकालने के लिए सर्जरी की जरूरत न पड़े तो वास्तव में यह काफी महत्वपूर्ण होगा। इसीलिए इस सैंसर को लेकर हम काफी उत्साहित हैं। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन