तस्वीर के रूप में दर्ज हुई मस्तिष्क की गतिविधि

Punjab Kesari

वाशिंगटन : वैज्ञानिकों ने त्वरित एफएमआरआई का इस्तेमाल करते हुए तेजी से बदलती मस्तिष्क की गतिविधियों को तस्वीर के रूप में कैद करके पहली बार मनुष्य की सोच की प्रक्रिया को सफलतापूर्वक दर्ज किया। फंक्शनल मैग्नेटिक रेसोनेंस इमेजिंग (एफएमआरआई) के जरिए खून में ऑक्सीजन की मात्रा में परिवर्तन को मापा जाता है। 

इस तकनीक को मस्तिष्क के कार्यों से जुड़ी न्यूरोनल गतिविधियों का पता लगाने के लिहाज से बहुत धीमा माना जाता था। ‘पीएनएएस’ जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक त्वरित एफएमआरआई के जरिए मस्तिष्क की तेज हलचल का पता लगाया जाना तंत्रिका विज्ञान अनुसंधान के प्रमुख लक्ष्य की तरफ बढऩे के लिहाज से अहम कदम है। तंत्रिका विज्ञान अनुसंधान का लक्ष्य मनुष्य के संवेज्ञानात्मक कार्यों जैसे कि नजरिया, सतर्कता और जागरूकता के लिए जिमेदार दिमागी नेटवर्क को समझना है।