पीसी को हैक करने के लिए images का उपयोग करता है मालवेयर

Punjab Kesari

जालंधरः मैलावेयर का ज्यादातर उपयोग कंप्यूटर पर किसी के अकाउंट और गोपनीय जानकारी को हैक करने के लिए किया जाता है। इसके अलावा ब्राउज़र या ओएस आधारित कारनामे के माध्यम से भी आपके कम्प्यूटर को हैक किया जा सकता है। जिसके साथ कभी-कभी सोशल नैटवर्क में भी प्रॉब्लम हो सकती है। 


आपको बता दें कि चेक प्वाइंट में शोधकर्ताओं ने Locky रंसोमवेयर नाम के ऐसे मालवेयर की खोज की है जो फेसबुक और लिंक्डइन की इमेज द्वारा आपके पीसी हैक करने के लिए इस्तेमाल करता है। यह ऐसा ट्रिक्स हैं जो ब्राउजर को मालिशियसली कोडेड इमेज फाइल को डाउनलोड करने के लिए मजबूर करता है जिससे आपका सिस्टम को हाईजैक किया जा सके। 


सोशल साइट्स हमें विश्वास बनाए रखने के लिए अपने यूजर्स को कई सिक्योरिटी एप्प प्रोवाइड करवाते हैं जिससे कई लोग बेफ्रक होकर फेसबुक या दूसरे साइट्स से कुछ भी डाउनलोड कर लेते हैं। चेक प्वाइंट का कहना है कि फेसबुक और लिंक्डइन ने सितंबर में बताया था कि उसके यूर्जस की इमेज यूज हो रही हैं लेकिन उन्होंने ये साफ नही किया कि इसमें सुधार के कोई कदम उठाए गए हैं या नहीं। चेक प्वाइंट ने कहा कि दोनों कंपनियों से इस संबंधी बात की जा रही है कि इस स्थिति को कैसे ठीक करना है।