बिना रुके दस साल तक चलती रहेगी यह बैटरी

Punjab Kesari

जालंधर : बैटरी की स्टोरेज क्षमता व परफार्मैंस को बेहतर बनाने के लिए हाल ही में एक ऐसी बैटरी विकसित की गई है जो बिना किसी समस्या के 10 साल तक लगातार काम कर सकती है। इस खास फ्लो बैटरी को हार्वर्ड जॉन ए पॉलसन स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग व अप्लाइड साइंस (SEAS) के शोधकर्ताओं ने मिलकर विकसित किया है। यह सौर ऊर्जा व वायु ऊर्जा से पैदा की गई बिजली को स्टोर करके रख सकती है। फ्लो बैटरी को लेकर प्रोफैसर माइकल अजीज और रॉय गॉर्डन ने कहा है कि यह लम्बे समय तक बिना पावर को कम किए स्टोर रखने में मददगार साबित होगी, वहीं इसको मेंटेन करने में खर्च भी नहीं होगा।

Flow battery

नई तकनीक पर काम करती है बैटरी -

इस फ्लो बैटरी में पावर को स्टोर करने के लिए लिक्विड इलैक्ट्रोलाइट्स का इस्तेमाल किया गया है। इस तकनीक में दो कैमिकल कम्पोनैंट्स को अलग-अलग टैंक्स में डिसॉल्व किया है जो पॉजिटिव व नैगेटिव चार्ज को स्टोर करते हैं। इनमें पानी में घुलनशील pH-न्यूट्रल (pH-neutral) को ऐड किया जाता है जो बैटरी चार्ज करने में मदद करता है। खास बात है कि इन टैंक्स का आकार जितना बड़ा होगा उनमें उतनी अधिक पावर स्टोर की जा सकेगी।

मैंटेनैंस पर होगा कम खर्च -

इस नई बैटरी की क्षमता 1000 बार चार्ज होने पर सिर्फ 1 प्रतिशत ही कम होगी यानी इस पर मैंटेनैंस का खर्च महज नाम मात्र ही आएगा। उपयोग की बात की जाए तो इस फ्लो बैटरी को लेकर एक आर्टिकल में लिखा गया है कि इसे घर की या दफ्तर की बेसमैंट में रखा जा सकता है यानी ऐसे स्थानों पर जहां लोग कम जाते हैं। उम्मीद की जा रही है कि इस कम कीमत में तैयार होने वाली फ्लो बैटरी को जल्द ही पूरी दुनिया में उपलब्ध किया जाएगा, फिलहाल इसकी कीमत और उपलब्धता को लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई है।