IBM ने खोजा डाटा स्टोर करने का नया तरीका

Punjab Kesari

जालंधर : अमरीकी मल्टीनैशनल टेक्नॉलजी कंपनी IBM ने अपनी सिलिकन वैली वाली लैब में सिंगल ऐटम पर डाटा स्टोर करने में कामयाबी हासिल की है। इस खोज से भविष्य में डाटा स्टोर करने के तरीके में एक बड़ा बदलाव आ सकता है। हार्ड ड्राइव में एक बिट डाटा स्टोर करने में करीब 10 हजार ऐटम का इस्तेमाल होता है। IBM ने दावा किया है कि एक बिट को स्टोर करने के लिए अब सिर्फ 1 ऐटम का इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसका मतलब है कि आप आइट्यून्स के 3 करोड़ 50 लाख गानों को एक क्रेडिट कार्ड के बराबर की स्टोरेज डिवाइस में स्टोर कर सकते हैं।

ibm 1122


IBM के रिसर्च ने अपनाया यह तरीका :

अमरीकी नियूज़ वेबसाइट क्वॉर्ट्ज़ की रिपोर्ट के मुताबिक मैग्नेटिज़म के दो पोल 1 और 0 स्टोर करने के लिए इस्तेमाल में लाए जाते हैं। होलमियम के ऐटम्स को 5 केलविन पर मैगनीशियम ऑक्साइड के सरफेस पर अटैच किया जाता है। इसके बाद रिसर्चर्स होलमियम ऐटम्स के जरिए करंट पास कर सकते हैं। 

इसके बाद सिंगल आयरन ऐटम का इस्तेमाल करके रिसर्चर्स हर ऐटम को 1 या 0 के लिए माप सकते हैं। यह ठीक वैसी ही प्रक्रि्या है, जैसी मैग्नेटिक हार्ड ड्राइव में इन्फर्मेशन को राइट व रीड करने में इस्तेमाल होती है। मगर अभी यह देखना बाकी है कि बड़े पैमाने पर यह तरीका सही तरीके से काम करेगा या नहीं।