37,000 Chrome यूजर्स ने डाउनलोड किया Fake Adblock Plus एक्सटैंशन

  • 37,000 Chrome यूजर्स ने डाउनलोड किया Fake Adblock Plus एक्सटैंशन
You Are Heretechnology
Tuesday, October 10, 2017-12:24 PM

जालंधर : अगर आप भी गूगल क्रोम पर ऐड ब्लॉकर प्लस एक्सटैंशन का उपयोग कर रहे हैं तो यह खबर आपके लिए है। अमरीका की सिक्योरिटी फर्म सविफ्ट ओन सिक्योरिटी ने ऑफिशियल क्रोम वैब स्टोर पर फेक ऐड ब्लॉकर प्लस एक्सटैंशन का पता लगाया है जिसे अब तक 37,000 क्रोम यूजर्स डाउनलोड कर चुके हैं। यह एक्सटैंशन देखने में बिलकुल असल में बनाई गई एक्सटैंशन की तरह ही है। 

 

इस सिक्योरिटी कम्पनी ने इसे ट्रैक कर ट्विटर पर ट्वीट किया जिसके बाद गूगल ने इसकी जांच की और इस एक्टैंशन को फेक करार दिया गया। सविफ्ट ऑन सिक्योरिटी ने बताया है कि इस फेक एक्सटैंशन को एक फ्रॉड डिवैलपर की तरफ से बनाया गया है। जिसने इसे मशहूर नाम से क्लोन बनाकर लोगों तक पहुंचाया है।

फेक ऐड ब्लॉकर पर किया गया खास विश्लेषण
इस फेक ऐड ब्लॉकर पर विश्लेषण करने के बाद पता चला है कि यह आक्रामक विज्ञापन आदि को भी दिखाता है जिस पर क्लिक करने पर कई सारी टैब्स ओपन हो रही हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि इसके यूजर्स पर कई हानिकारक प्रभाव पड़ सकते हैं। उल्लेखनीय है कि अब तक फ्राड एक्सटैंशन को लेकर ऐसी कोई भी समस्या सामने नहीं आई थी। सुझाव के तौर पर हम आपको बताते हैं कि अगर आप ऐड ब्लॉकर प्लस एक्सटैंशन का उपयोग करते हैं और इसमें ऐड्स शो हो रही हैं तो सही रहेगा आप इसे अन इंस्टाल कर दोबारा से ओरिजनल वर्जन को इंस्टाल करें। इससे आप अपने डाटा को इस एक्टैंशन से होने वाले खतरे से बचा सकते हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !