डोनाल्ड ट्रम्प के इस फैसले के विरुद्ध हैं टेक कंपनियां

Punjab Kesari

जालंधर - अमरीका के राष्ट्रपति ट्रम्प ने बीते शुक्रवार को एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए जिसमें US रिफ्यूजी प्रोग्राम को 120 दिनों के लिए अस्थायी रूप से रोकने का आदेश दिया गया। ट्रम्प के इस फैसले में सीरिया, इराक, ईरान, सूडान, सोमालिया, लीबिया और यमन से लोगों को 90 दिनों के लिए अमरीका में आने से रोका गया है। 

जानकारी के मुताबिक डोनाल्ड ट्रम्प के इस फैसले से गूगल के 200 कर्मचारी प्रभावित हैं। इसके अलावा बाकी टेक कंपनियां भी जैसे माइक्रोसॉफ्ट, एप्पल, उबर, टेस्ला और अमेजन भी डोनाल्ड ट्रंप के इस फैसले का विरोध कर रही है।

मार्क जुकरबर्ग का ट्वीट -

FACEBOOK MARK ZUKERBERG

एलोन मस्क द्वारा किया गया ट्वीट -

ELON MUSK