दूरसंचार कंपनियों की फ्री पेशकश से बैंक, सरकार का राजस्व होगा प्रभावित : एयरटेल

Punjab Kesari

जालंधर: दूरसंचार क्षेत्र की नई कंपनी रिलायंस जियो पर हमला बोलते हुए भारती एयरटेल ने कहा कि दूरसंचार कंपनियों की फ्री पेशकश से भी अंशधारक- बैंक और सरकार का राजस्व प्रभावित होगा।   

भारती एयरटेल के वैश्विक मुख्य वित्त अधिकारी नीलांजल रॉय ने कहा, ‘‘लघु से मध्यम अवधि में फ्री पेशकश से सभी अंशधारक सरकार के शुल्क और कर, उद्योग को 4,00,000 करोड़ रुपए का रिण देने वाले बैंक प्रभावित होंगे।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि नए ऑपरेटरों के बाजार बिगाडऩे वाले मूल्य से उद्योग के राजस्व टेबल में पहली बार जोरदार गिरावट आई है। इससे भारतीय दूरसंचार उद्योग की सेहत पर असर पड़ा है। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी ने चार साल में सबसे कम मुनाफा कमाया है।   

अक्तूबर दिसंबर तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ 54 प्रतिशत घटकर 503.7 करोड़ रुपए पर आ गया है जो एक साल पहले समान तिमाही में 1,108.1 करोड़ रपए रहा था। राय ने कहा, ‘‘यह कहना कि हम रोचक समय में रह रहे हैं, कम कहना होगा। भारत में नए ऑपरेटर द्वारा लगातार फ्री पेशकश को जारी रखने से नेटवर्क पर ट्रैफिक की सूनामी आ गई है, जिससे डाटा और वॉयस से प्राप्ति बुरी तरह प्रभावित हुई है।’’