जियो और एयरटैल को मात देगा वोडाफोन-आइडिया विलय: क्रैडिट स्विस

Punjab Kesari

जालंधर: वोडाफोन इंडिया और आइडिया सैल्युलर का विलय जियो व एयरटैल को मात दे देगा क्योंकि विलय से बनने वाली सबसे बड़ी कम्पनी स्पैक्ट्रम होल्डर रिलायंस जियो को पीछे छोड़ देगी। अभी मुकेश अंबानी की कम्पनी रिलायंस जियो ओवरऑल नैटवर्क कैपेसिटी के मामले में देश में टॉप पर है। क्रैडिट स्विस की रिपोर्ट के मुताबिक यदि वोडाफोन और आइडिया मिलकर एक हो जाती हैं तो दोनों कम्पनियों का नैटवर्क कैपेसिटी शेयर एक होकर 35 पर्सैंट हो जाएगा जबकि रिलायंस जियो का नैटवर्क शेयर 31 पर्सैंट है।

विलय से बनने वाली कम्पनी पहले नंबर पर पहुंचेगी

रिलायंस जियो से मजबूती के साथ मुकाबले के लिए वोडाफोन और आइडिया में विलय को लेकर बातचीत चल रही है। क्रैडिट स्विस के मुताबिक विलय से बनने वाली कंपनी के पास 26 पर्सैंट स्पैक्ट्रम मार्कीट शेयर होगा। इस मामले में यह कम्पनी एयरटैल को पछाड़ कर पहले नंबर पर पहुंच जाएगी। फिलहाल भारती एयरटैल 21 पर्सैंट स्पैक्ट्रम के साथ पहले स्थान पर है और रिलायंस जियो 17 पर्सैंट शेयर के साथ दूसरे नंबर पर है।