पैसों की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करेगी Vodafone की यह सर्विस

Punjab Kesari

जालंधर:  500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद देश भर में इसकी मिली जुली प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। बैंकों और ए.टी.एम. के बाहर सुबह से लेकर देर रात तक लोग लाइनों में देखें जा रहें है। 500 और 1000 के नोट न चल पाने से 100 रुपए के नोट और छूटे पैसों को लेकर काफी समस्यओं का सामना करना पड़ रहा है। इस समस्यां को देखते हुए वोडाफोन ने ऐसी सर्विस पेश की है जिसके जरिए उपभोक्ता M-Pesa को कैश में बदल सकते हैं। 
 
वोडाफोन की रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल वॉलेट का उपयोग कर रहें 8.4 मिलियन से ज्यादा यूजर 1,20,000 से ज्यादा आउटलेट से पैसे निकाल सकते हैं। ये आउटलेट की संख्या देशभर के बैंक की शाखाओं की संख्या के लगभग बराबर है। इसके अलावा, हमारे डिजिटल वॉलेट को आसानी से क्रेडिट/डेबिट कार्ड और नेट बैंकिंग के जरिए आसानी से रीचार्ज किया जा सकता है। इसका मतलब यह हुआ की जिसके पास एम-पैसा है उसे एटीएम और बैंक की लंबी लाइन में लगने की जरुरत नहीं है।
वोडाफोन एम पैसा के बिजनेस हैड सुरेश सेठी ने कहा, ‘M-Pesa से पैसे निकालने के लिए यूजर को अपना आइडी प्रूफ लेकर M-Pesa आउटलेट पर जाना होगा। आपको बता दें कि वोडाफोन के करीब 8.4 मिलियन M-Pesa यूजर्स हैं, जो उपलब्धता के आधार पर डिजिटल वॉलेट के जरिए M-Pesa आउटलेट्स से पैसा निकाल सकते हैं। M-Pesa वॉलेट में क्रेडिट या डेबिट के जरिए पैसा डाला जा सकता है। इसके साथ ही सेठी ने ये भी बताया कि करीब 56 फीसदी आउटलेट्स देश के ग्रामीण इलाकों में बनाए गए हैं। इसके अलावा वोडाफोन M-Pesa वॉलेट का इस्तेमाल ऑनलाईन शॉपिंग, बिलों के भुगतान तथा परिवारजनों या दोस्तों को पैसा भेजने के लिए भी किया जा सकता।