जर्मनी में बंद हो सकते हैं iPhones!

  • जर्मनी में बंद हो सकते हैं iPhones!
You Are HereTop Stories
Friday, December 21, 2018-4:15 PM

- पेटेंट विवाद के चलते कोर्ट ने लिया फैसला

गैजेट डैस्क : अमरीकी चिप निर्माता कम्पनी क्वॉलकोम व एप्पल के बीच चल रहे विवाद का फैंसला Qualcomm के पक्ष में सुनाया गया है। जर्मन के शहर म्यूनिख (Munich) की जिला अदालत ने आदेश देते हुए कहा है कि जर्मन में iPhone 7 और 8 की बिक्री पर रोक लगा दी गई है। वहीं आने वाले समय में अन्य मॉडल्स पर भी बैन लग सकता है। लेकिन इसके लिए क्वालकोम को 668.4 यूरो यानि तकरीबन 765 मिलियन डॉलर सिक्योरिटी के रूप में एप्पल को देने होंगे तभी इस फैसले को अस्तित्व में लागू किया जाएगा। 

PunjabKesariक्या था पूरा मामला
पिछले दो वर्षों से क्वालकोम व एप्पल के बीच पेटेंट को लेकर विवाद चल रहा है। इस लीगल लड़ाई की शुरूआत एप्पल ने की। एप्पल अपने आईफोन्स और आईपैड्स में क्वालकोम द्वारा बनाई गई चिप का उपयोग करती है, लेकिन इस वायरलैस मॉडम चिप को लेकर एप्पल ने क्वालकोम को रोयालिटी देनी बंद कर दी, जिसके बाद क्वालकोम ने एप्पल पर केस किया और उसे भुगतान करने को कहा।

एप्पल पर पड़ेगा बुरा असर 
आपको बता दें कि जर्मन में हर वर्ष काफी मात्रा में आईफोन्स की बिक्री होती है ऐसे में इस कोर्ट के इस निर्णय से एप्पल के मुनाफे पर काफी बुरा प्रभाव पड़ेगा व दुनिया भर में कम्पनी की साख पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। 

PunjabKesariएप्पल ने दिया बयान
एप्पल का कहना है कि जर्मनी के स्टोर्स में मौजूद आईफोन्स की यूनिट्स को वापस लिया जा रहा है, लेकिन कम्पनी कोर्ट के इस फैंसले को अपर कोर्ट में चुनौती देगी। ग्राहक अभी भी iPhone XS, iPhone XS Max और iPhone XR को सभी सटोर्स से खरीद सकते हैं। वहीं इस मामले पर क्वालकोम ने कहा है कि इस फैंसले पर आपत्ति जताते हुए एप्पल कोर्ट के ऑर्डर की अवहेलना कर रही है। 

हर साल बिक रहे थे 100 करोड़ आईफोन्स
रिसर्च फर्म बर्नस्टीन (Bernstein) के एनालिस्ट स्टेसी रसगोन (Stacy Rasgon) ने एक नोट में कहा है कि बाकियों के मुकाबले जर्मनी एप्पल के लिए इतना पड़ा मार्किट नहीं है। यहां आज तक हर वर्ष 100 करोड़ यूनिट्स को बेचा जाता है। बाजार में मौजूद कुल आईफोन मॉडल्स में से आधे मॉडल्स कोर्ट के इस निर्णय से प्रभावित होंगे। 

PunjabKesariक्वालकॉम ने कहा बंद हो बाकी के आईफोन मॉडल्स
कोर्ट के इस फैंसले के बाद क्वालकॉम ने कहा है कि वे चाहते हैं कि आईफोन्स के इन मॉडल्स के बैन को एक्सटैंड किया जाए और नए मॉडल्स जो इनमें मौजूद नहीं हैं उन्हें भी बैन किया जाए। 

इससे पहले चीन में बैन हुए iPhones
इसी महीने  कुछ आईफोन मॉडल्स को चीन में बेचने व इम्पोर्ट करने पर प्रतिबंध लगाया गया है। कोर्ट ने कहा है कि कुछ आईफोन मॉडल्स क्वालकॉम के दो पेटैंट्स (रीसाइज़िंग फोटोज और मैनेजिंग एप्प) का उल्लंघन करते हैं। जिस वजह से एप्पल iPhone 6s के बाद जारी हुई सभी आईफोन्स को चीन में बेचना बंद कर दिया जाए फिर चाहे वे किसी भी कीमत के क्यों ना हों। इनमें प्रतिबंधित मॉडल्स में आईफोन 6S, आईफोन 6S प्लस, आईफोन 7, आईफोन 7 प्लस, आईफोन 8, आईफोन 8 प्लस व आईफोन X आदि शामिल हैं। 

PunjabKesariइस निर्णय पर एप्पल ने कहा था कि उन्होंने कोई पेटेंट का उल्लंघन नहीं किया है। क्वालकॉम हमारे प्रोडक्ट्स को बंद करवाना चाहती है वो भी जब कम्पनी की अपनी इल्लीगल गतिविधियों पर इनवैस्टिगेशन चल रही है। चीनी ग्राहकों तक हम एप्पल आईफोन्स को पहुंचाएंगे हम अदालत के फैसले को लेकर सभी कानूनी विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan