लोकेशन ऑफ करने के बाद भी आपको ट्रैक कर रहा है Google

  • लोकेशन ऑफ करने के बाद भी आपको ट्रैक कर रहा है Google
You Are HereLatest News
Tuesday, August 14, 2018-4:25 PM

जालंधर- अमरीका की प्रिंसटन यूनिवर्सिटी की रिसर्च टीम ने बताया है कि स्मार्टफोन में गूगल लोकेशन का इस्तेमाल करने पर गूगल आपकी हर गतिविधियों पर नजर रखता है, वहीं जब आप गूगल लोकेशन को बंद कर देते हैं फिर भी गूगल की आप पर नजर बनी रहती है। रिपोर्ट के मुताबिक गूगल द्वारा कलेक्ट किया गया डाटा मिनट दर मिनट का होता है। गूगल इसे न सिर्फ गूगल मैप्स के जरिए ट्रैक करता है बल्कि ब्राउजर, वेदर अपडेट्स और ब्राउजर सर्च के आधार पर भी ट्रैक करता है। लोकेशन ऑफ करने से सिर्फ इतना होगा कि आपकी लोकेशन टाइमलाइन पर नहीं दिखेगी, लेकिन फिर भी आप ट्रैक किए जा रहे हैं।

PunjabKesariलोकेशन डाटा सेव

दूसरी तरफ गूगल के प्राइवेसी पेज के मुताबिक यूजर किसी भी वक्त अपनी लोकेशन हिस्ट्री को बंद कर सकता है, उस वक्त गूगल ट्रैक नहीं कर पाएगा। यानि कि जब कोई यूजर गूगल लोकेशन को टर्न ऑफ करके किसी जगह पर जा रहा है, तो उसका पता नहीं चलेगा। रिसर्च टीम ने बताया कि 'यह पूरी तरह से सच नहीं है' लोकेशन हिस्ट्री को पॉज करने के बाद भी कुछ गूगल एप ऐसी हैं, जो बिना आपकी इजाजत से आपके लोकेशन डाटा को सेव कर लेते हैं।

PunjabKesariइससे पहले भी अाई थी खबर 

पिछले साल नवंबर में क्वॉर्ट्ज ने एक रिपोर्ट पब्लिश की थी और इसमें कहा था कि लोकेशन ऑफ करने के बावजूद नजदीकी फोन टावर से आपकी लोकेशन डाटा गूगल को भेजी जाती है। इतना ही नहीं सिम न होने की स्थिति में भी ऐसा होता है, लेकिन इस रिपोर्ट में सेल फोन टावर नहीं, बल्कि इसके लिए गूगल की वेब सर्विस को जिम्मेदार ठहराया गया है।

PunjabKesari

कंपनी की बयान

गूगल ने कहा है, ‘लोकेशन हिस्ट्री गूगल का प्रोडक्ट है और यह आपकी मर्जी पर है कि आप इसे एडिट या डिलीट कर सकते हैं बंद या चालू कर सकते हैं। हम आगे भी गूगल एक्सपीरिएंस के लिए लोकेशन का इस्तेमाल करते रहेंगे ताकि उन्हें गूगल सर्च या ड्राइविंग में सहूलियत हो।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan