बैन वेबसाइट्स को रिमूव करने में फेल हुआ गूगल, फिर लग सकता है जुर्माना

  • बैन वेबसाइट्स को रिमूव करने में फेल हुआ गूगल, फिर लग सकता है जुर्माना
You Are HereTop Stories
Tuesday, November 27, 2018-6:17 PM

गैजेट डेस्क : ररूस ने गूगल पर एक केस फाइल किया है, जिसमें दावा किया गया है कि कंपनी रूस में बैन की गई वेबसाइट्स को गूगल सर्च से हटाने में फेल हुई है। रूस के इंटरनेट वॉचडॉग Roskomnadzor ने आरोप लगाया है कि बैन की गई साइट्स अभी भी गूगल सर्च रिजल्ट्स में दिख रही हैं, जिस वजह से अब गूगल के विरुद्ध केस किया गया है। इसमें लिखा है कि अगर गूगल द्वारा रूस के कानूनों का उल्लंघन हो रहा है तो गूगल पर $10,450 (लगभग 7 लाख 41 हजार रुपए) का फाइन लगाया जाए।

PunjabKesari

रूस ने बढ़ाई सख्ती

वैसे अगर बात गूगल की करें तो यह फाइन काफी कम है, लेकिन रूस ने अपने प्लान के बारे में बताया है कि जो टेक्नोलॉजी कंपनियां कानून को तोड़ेंगी, उनको लेकर आने वाले समय में कठोर दंड लागू किया जाएगा। 

PunjabKesari

प्रॉफिट को देख लगेगा फाइन

न्यूज़ वेबसाइट रिउटर्स को तीन सोर्सेस से जानकारी मिली है कि रूस के नियमों का उल्लंघन होने पर टेक कंपनियों पर साल के प्रॉफिट के हिसाब से फाइन लगेगा। रिपोर्ट के मुताबिक, इसे फिलहाल कंपनी के रेवेन्यू का 1 प्रतिशत कहा जा रहा है। 

PunjabKesari

रूस में बंद किए गए ये दो ऐप्स

एनगैजेट की रिपोर्ट के मुताबिक, टेक कंपनियां काफी लंबे समय से रूस के टार्गेट पर हैं। इससे पहले देश ने सुरक्षा के मद्देनजर LinkedIn और Telegram जैसे ऐप्स को बंद कर दिया है। लेकिन गूगल को रूसी कानूनों के अनुरूप रहने के लिए कुछ रियायतें दी गई हैं।

  • वहीं, सितंबर के महीने में गूगल की वीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस यूट्यूब से ऐड को रिमूव करवाया गया था। वो भी जब रूस के अपोजिशन लीडर ने दावा किया था कि ये चुनावी कानूनों का उल्लंघन कर रहे हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh