फर्जी खबरों पर लगाम कसने के लिए WhatsApp ने दिया अखबारों में विज्ञापन

  • फर्जी खबरों पर लगाम कसने के लिए WhatsApp ने दिया अखबारों में विज्ञापन
You Are HereLatest News
Monday, December 3, 2018-12:34 PM

गैजेट डेस्क- पिछले 8 महीनों में भारत में व्हाट्सएप पर फैली फेक न्यूज की वजह से कई जानें जा चुकी हैं। इसे रोकने के लिए सरकार और कंपनी के बीच कई बार मीटिंग भी हो चुकी है। अब कंपनी ने भारत के कई अखबारों में पूरे पेज का विज्ञापन दिया है, जिसमें कंपनी ने व्हाट्सएप पर आने वाली फर्जी खबरों को पहचानने के तरीके बताए हैं। व्हाट्सएप ने इसका शीर्षक 'अफवाहों और झूठी खबरों को WhatsApp पर फैलने से रोकने में मदद कीजिए' रखा है। जानते हैं इसके बारे में...

PunjabKesari1. ऐसी खबरें पहचानिये जो झूठी (फेक) हो सकती हैं।
ऐसे संकेतों की जांच कीजिए जिनसे यह तय करने में मदद मिले कि जानकारी सच या झूठ, उदाहरण के लिए, फॉरवार्डेड मैसेजेस जिनका स्रोत  ना हो, प्रमाण ना हो या ऐसे मैसेज जिनसे आपको गुस्सा आए। ऐसे मैसेज इस बात का संकेत हो सकते हैं कि वे सच नहीं है। फोटो, वीडियो और यहां तक कि वॉयस रिकॉर्डिंग भी एडिट की जा सकती है ताकि आपको गुमराह किया जा सके।

2. अन्य स्रोतों से भी उसकी जांच कर लें।
सच्चाई जानने के लिए ऑनलाइन सर्च कीजिए और भरोसेमंद समाचार की वेबसाइट्स से यह पता कीजिए यह स्टोरी कहां से आई है। अगर फिर भी शक हो तो सच्चाई जांटने वाली वेबसाइट्स भरोसेमंद लोगों या कम्युनिटी लीडर्स से अधिक जानकारी हासिल करें।

PunjabKesari3. अफवाहों को फैलने से रोकिए।
अगर आपको लगता है कि कुछ फर्जी या फेक है तो लोगों से कहिए कि वे जानकारी शेयर करने से पहले उसकी जांच कर लें।ष मैसेज को सिर्फ इसलिए शेयर ना करें क्योंकि कोई आपको शेयर करने के लिए कह रहा है। भले ही वे आपके मित्र ही क्यों ना हों।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan