अमरीका के बाद अब न्यूज़ीलैंड में ब्लॉक हुए हुवावेई के इक्यूपमैंट्स

  • अमरीका के बाद अब न्यूज़ीलैंड में ब्लॉक हुए हुवावेई के इक्यूपमैंट्स
You Are HereTop Stories
Thursday, November 29, 2018-5:15 PM

- देश की सिक्योरिटी को है खतरा

गैजेट डैस्क : चीन की टैलीकॉम उपकरण निर्माता कम्पनी हुवावेई को एक बहुत ही बड़ा झटका लगा है। इस चीनी कम्पनी द्वारा तैयार किए गए इक्यूपमैंट्स यानी उपकरणों को न्यूज़ीलैंड में ब्लॉक कर दिया गया है। अमरीका व आस्ट्रेलिया के बाद अब न्यूज़ीलैंड की सरकार ने सख्ती बरतते हुए हुवावेई द्वारा तैयार किए गए उपकरणों पर रोक लगा दी है। हुवाई ने अपनी स्टेटमैंट में न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया है कि न्यूज़ीलैंड के अधिकारियों ने इस बड़े टैलीकॉम कैरियर को देश में से ब्लॉक कर दिया है और कहा है कि 5G टैक्नोलॉजी के लिए देश में हुवावेई द्वारा तैयार किए गए उपकरण उपयोग नहीं किए जाएंगे।

  • न्यूयॉर्क टाइम्स ने रिपोर्ट करते हुए हुवावेई की स्टेटमैंट का खुलासा किया है। इसमें बताया गया है कि न्यूज़ीलैंड के गवर्नमैंट कम्युनिकेशन सिक्योरिटी ब्यूरो के डायरैक्टर जनरल ने कहा है कि अगर हुवावेई द्वारा बनाए गए प्रोडक्ट्स का उपयोग किया जाए तो इससे राष्ट्रीय सुरक्षा जोखिम पैदा हो सकता है। 

PunjabKesari

अमरीका के बाद अन्य देशों ने भी बैन की हुवावेई

हुवावेई को सबसे पहले अमरीका ने बैन किया था जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया गवर्नमैंट ने भी बैन कर दिया। उस समय अमरीका ने कहा था कि हुवावेई कम्पनी के कनैक्शन चाइनीज़ सरकार के साथ हैं। जिस वजह से उनके प्रोडक्ट्स देश के लिए हानिकारक हैं। अस्ट्रेलिया में एम्बैसी ने एक स्टेटमैंट को रिलीज़ किया है जिसमें लिखा है कि उनके दोस्त व सहयोगी इस मुद्दे पर विचार जरूर करें और सिक्योरिटी रिस्क को लेकर अपने टैलीकोम नैटवर्कस व सप्लाई चेन की सुरक्षा को बनाए रखें। 

PunjabKesari

इससे पहले फोन्स को किया था बंद

एनगैजेट की रिपोर्ट के मुताबिक अमरीकी सांसदों ने सरकारी कर्मचारियों, ठेकेदारों और एजैंसियों को हुवावेई और अन्य चाइनीज़ कम्पनियां जैसे कि ZTE के प्रोडक्ट्स का उपयोग करने से मना किया है। इससे पहले पैंटागन ने हुवावेई और ZTE के फोन्स को अपनी मिल्टरी बेस रिटेलर्स से बंद किया था। कई सरकारी एजैंसियां जिनमें FBI, CIA और NSA भी मौजूद हैं ने चेतावनी देते हुए कहा है कि हुवावेई प्रोडक्ट्स को यूज़ ना किया जाए। ये वार्निंग कनाडा, जर्मनी, जापान और इटली, जैसे अन्य देशों को भी दी गई है। 

PunjabKesari

हुवावेई ने दी प्रतिक्रिया

चीनी कम्पनी हुवावेई इन देशों द्वारा किए जा रहे दावों से इनकार करती रही है। कम्पनी का कहना है कि न्यूज़ीलैंड से बात चल रही है। वह लोगों की इस तरह की चिंताओं को सक्रिय रूप से संबोधित करेंगे व पता लगाएंगे कि कैसे आगे एकजुट होकर काम किया जा सके। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh