फेक न्यूज और अफवाहों को रोकेगा WhatsApp का ये नया फीचर, जानिए क्या है खास

  • फेक न्यूज और अफवाहों को रोकेगा WhatsApp का ये नया फीचर, जानिए क्या है खास
You Are Heretechnology
Friday, March 22, 2019-4:03 PM

गैजेट डेस्कः WhatsApp पर बेहद आसानी से फेक न्यूज और इन्फॉर्मेशन हो जाती है पर अब ऐसा नहीं होगा। WABetainfo की एक रिपोर्ट के मुताबिक वॉट्सऐप लेबल फीचर को और बेहतर कर रही है। आपको बता दें कि फेक न्यूज से बचने के लिए वॉट्सऐप ने फॉर्वर्ड किए गए लिंक्स पर लेबल फीचर दिया था, यानी किसी फॉरवर्ड किए गए कॉन्टेंट पर लिखा होगा कि वो फॉरवर्ड किया गया है।
PunjabKesari
अब कंपनी फॉरवर्ड किए गए मैसेज के लेबल को इंप्रूव करेगी जिसके तहत जो मैसेज ज्यादा मात्रा और तेजी से फॉरवर्ड हो रहे होंगे वहां Frequently Forwarded का लेबल देगी ताकि जिन्हें वो मैसेज मिले वो ये समझ सकें कि ये फॉरवर्ड किया गया हुआ मैसेज है और इस पर भरोसा करने से पहले इसकी प्रमाणिकता की जांच कर लें। WhatsApp का ये फॉर्वर्डिंग फीचर यूजर्स को बताएगा कि कितनी बार वो मैसेज फॉरवर्ड हुआ है। यह जानकारी इंडिविजुअल चैट के मैसेज इनफो में होगा और ये सिर्फ सेंट मैसेज में होगा। अगर यूजर्स को ये जानना है कि उनके द्वारा कितनी बार कोई मैसेज फॉरवर्ड किए गए हैं, उसे एक बार और फॉरवर्ड करना होगा और यहां से चेक कर सकेंगे।
PunjabKesari
चार बार से ज्यादा फॉरवर्ड मैसेज दिखेगा स्पेशल
फ्रिक्वेंटली फॉर्वर्डेड फीचर की बात करें तो अगर यूजर्स को चार बार से ज्यादा फॉरवर्ड किया हुआ मैसेज मिलता है तो ये यूजर्स को स्पेशल मैसेज दिखेगा जिसके लिए वॉट्सऐप Forwarded Tag टॉप लेफ्ट कॉर्नर में दिखेगा। जाहिर है कंपनी का मकसद लोगों को ये बताना है कि ये मैसेज ज्यादा फॉर्वर्ड किया जा रहा है ताकि फेक कॉन्टेंट को यूजर्स चेक कर सकें।
PunjabKesari
भारत में फेक न्यूज, गलत इनफॉर्मेशन और चाइल्ड पॉर्न को वॉट्सऐप पर शेयर करने से रोकने के लिए WhatsApp आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड टेक का यूज कर रही है जो इस तरह के कॉन्टेंट वाले प्रोफाइल को डिटेक्ट करता है और उसे डिलीट करता है चूंकि वॉट्सऐप एंड टू एंड एन्क्रिप्टेड है, इसलिए मुमकिन नहीं है कि कोई ऑरिजिन का पता लगा सके कि फेक मैसेज कहां से सर्कुलेट किए जा रहे हैं।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Isha