इस तरह हुआ सबसे लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम Android का जन्म, जानें पूरा इतिहास

  • इस तरह हुआ सबसे लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम Android का जन्म, जानें पूरा इतिहास
You Are HereLatest News
Thursday, June 7, 2018-3:09 PM

जालंधर : इसमें कोई शक नहीं है कि एंड्रॉयड OS स्मार्टफोन्स में सबसे ज्यादा लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम है। गूगल द्वारा तैयार किए गए एंड्रॉयड के पहले बीटा वर्जन को नवंबर 2007 में रिलीज किया गया था। वहीं इसका कमर्शियल वर्जन सितम्बर 2008 में रिलीज़ हुआ था। इस ऑपरेटिंग सिस्टम के पहले वर्जन को सिर्फ कोड नेम से पेश किया गया था लेकिन उसके बाद वर्ष 2009 से इसे अल्फाबेटिकल नाम से रिलीज़ किया जाने लगा। अब 1 बिलीयन यूजर्स प्रतिदिन एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग करते हैं। आज हम इस रिपोर्ट के जरिए एंड्रॉयड वर्जन्स की पूरी जानकारी लेकर आए हैं जिससे आपको इनके सभी वर्जन्स में क्या-क्या सुधार किया गया है उसकी जानकारी मिलेगी। 

 

1. Android 1.1

इस एंड्रॉयड वर्जन को सबसे पहले T-Mobile G1 स्मार्टफोन में दिया गया था और यह उस समय का सबसे पावरफुल वर्जन था। इस स्मार्टफोन के रिलीज़ होने के बाद आईफोन की बिक्री में भी काफी कमी आई थी। 

- इसमें बेहतर ब्राउज़िंग के लिए पहली बार एंड्रॉयड ब्राउज़र दिया गया था। 
- यह पहला वर्जन था जो गूगल के साथ डाटा सिंकिंग करता था। 
- इसमें गूगल मैप्स दिए गए थे जो GPS की मदद से लोकेशन का पता लगाने में मदद करते थे। 

 

2. Android 1.5 Cupcake 

दूसरे नम्बर पर एंड्रॉयड 1.5 को Cupcake नाम से रीलीस किया गया था। मई 2009 में पेश किए गए इस वर्जन में कई नए फीचर्स जोड़े गए थे। 

PunjabKesari

 

- इसमें पहली बार वर्चुअल कीबोर्ड की सपोर्ट दी गई। 
- होम स्क्रीन पर शॉर्टकट और विडजैस्ट इसमें दिए गए। 
- कैमरे में पहली बार वीडियो रिकार्डिंग फीचर शामिल किया गया। 
- इसमें डायरैक्ट वीडियो को यूट्यूब पर अपलोड करने की ऑप्शन मिली।

 

3. Android 1.6 Donut

इस 1.6 डोनट एंड्रॉयड वर्जन को अक्टूबर 2009 में रिलीज़ किया गया था। इसमें कुछ इम्प्रूवमेंट्स के साथ CDMA की सपोर्ट भी दी गई है। 

PunjabKesari

- यह वर्जन अलग-अलग स्क्रीन साइज को स्पोर्ट करता था। 
- गूगल मैप्स नैविगेशन में शांमिल की गई थी सैटेलाइट नैविगेशन की सपोर्ट

 

4. Android 2.0 and 2.1 Eclair

इस एंड्रॉयड वर्जन को जनवरी 2010 में रिलीज़ किया गया था। इसमें बग्स को फिक्स करते हुए कई बदलाव किए गए थे। 

PunjabKesari

 

- एंड्रॉयड में शामिल हुई मल्टी टच की सपोर्ट
- वैब पेज में शामिल हुई नई एड्रेस बार
- मल्टिपल गूगल अकाउंट्स की सपोर्ट

 

5. Android 2.2 Froyo

इस एंड्रॉयड वर्जन को मई 2010 में रिलीज़ किया गया था। इसमें पहली बार वीडियो रिकार्डिंग में फोन फ्लैश को शामिल किया गया था। 

PunjabKesari

 

- कॉन्टेक्ट और मेल का बैकअप गूगल सर्वर पर स्टोर करने की मिली ऑप्शन
- मिली ब्लूटुथ कम्पार्टेबिल्टी, मिली कार स्पीकर्स और डॉक स्पीकर्स के साथ कनैक्ट करने की ऑप्शन
- 3G कनैक्शन पर पोर्टेबल हॉटस्पोर्ट की मिली सपोर्ट

 

6. Android 2.3 Gingerbread

इस ऑपरेटिंग सिस्टम को वर्ष 2010 में रिलीज़ किया गया था। इसमें पहली बार NFC की सपोर्ट दी गई थी। 

PunjabKesari

- इम्प्रूव्ड बैटरी लाइफ
- वीडियो कॉलिंग में फ्रंट फेसिंग कैमरा सपोर्ट
- डाउनलोड मैनेजर
- इम्प्रूव्ड ऑन स्क्रीन कीबोर्ड 

 

7. Android 3.0 and 3.1 Honeycomb

इस ऑपरेटिंग सिस्टम को मई 2011 में रिलीस किया गया था। इसे खास तौर पर टैबलेट्स के लिए पेश किया गया था। 

PunjabKesari

 

- लार्ज स्क्रीन की सपोर्ट
- वैब ब्राउज़र में शामिल हुआ टैब फीचर
- बड़े और बोल्ड विडजैस्ट
- जीमेल और यूट्यूब को मिली बड़ी स्क्रीन की सपोर्ट

 

8. Android 4.0 Ice Cream Sandwich

आईस क्रीम सैंडविंच पहला एंड्रॉयड वर्जन था जिसे गूगल I/O कान्फ्रेंस में मई 2011 को रिलीज़ किया गया था। पेश होने के 7 महीनों के बाद दिसम्बर में इसे सैमसंग गैलेक्सी नैक्सिस स्मार्टफोन में दिया गया था। 

PunjabKesari

 

- ऑपरेटिंग सिस्टम में दिया गया Holo थीम
- फ़ास्ट ब्राउज़िंग एक्सपीरिएंस
- एप्स के लिए मल्टी स्टोरेज स्पेस
- फोन को ओपन करने के लिए शामिल की गई फेस रिकोग्निशन तकनीक

 

9. Android 4.1, 4.2 and 4.3 Jellybean

जैलीबीन ऑपरेटिंग सिस्टम को जून 2012 में रिलीज़ किया गया था। इसमें कई आधुनिक फीचर्स को शामिल किया गया था। 

PunjabKesari

 

- इसमें पहली बार दिया गूगल असिस्टेंट टूल गूगल नाओ
- कैमरे से ही फोटोज़ को देखने की मिली सपोर्ट
- नोटिफिकेशन्स की मिली सुविधा

 

10. Android 4.4 KitKat

4.4 एंड्रॉयड किटकैट ऑपरेटिंग सिस्टम को नई इम्प्रूवमेंट्स के साथ नवम्बर 2013 को रिलीज़ किया गया था। 

PunjabKesari

 

- बेहतरीन नैविगेशन बार
- लॉक स्क्रीन पर विडजैस्ट की सपोर्ट
- नया डायलर और कॉलर ID फीचर
- फुल स्क्रीन वालपेपर
- इमोजी कीबोर्ड की सपोर्ट
- हैंगआउट्स और मैसेजिंग एप हुए शामिल
- क्लाउड प्रिंट की मिली सुविधा

 

11. Android 5.0 Lollipop

एंड्रॉयड 5.0 लोलीपॉप को मई 2014 में Google I/O इवेंट के दौरान पेश किया गया था। गूगल ने इसके डिजाइन में काफी बदलाव कर इसे लॉन्च किया था। 

PunjabKesari

 

- बेहतर क्विक सैटिंग सपोर्ट
- बैटरी सेवर मोड
- नई लॉक स्क्रीन
- स्मार्ट लॉक 
- डिवाइस शेयरिंग के लिए गैस्ट मोड

 

12. Android 6.0 Marshmallow

एंड्रॉयड मार्शमैलो को लॉली पाप ऑपरेटिंग सिस्टम से भी बेहतर एक्सपीरिएंस देने के लिए बनाया गया था। इसे सबसे पहले वर्ष 2015 में गूगल I/O इवेंट के दौरान पेश किया गया है। 

PunjabKesari

 

- बेहतर स्टैंडबाई मोड
- फिंगरप्रिंट की सपोर्ट
- एंड्रॉयड पेय से कर सकेंगे मोबाइल पेमेंट्स

 

13. Android 7.0 Nougat

एंड्रॉयड नॉगेट को रीसेंट वर्जन कहा जाता है यानी मार्किट में मौजूद एप्स में यही वर्जन देखने को मिलता है। इसे Google I/O इवेंट के दौरान मार्च 2016 में रिलीज़ किया गया था।

PunjabKesari

 

- दो एप्स को एक साथ चलाने के लिए मल्टी विंडो की सपोर्ट
- बेहतर सैटिंग एप्प
- रीसेंट एप स्क्रीन पर क्लीयर ऑल की मिली ऑप्शन
- नोटिफिकेशन्स में कर सकते हैं डायरैक्ट रिप्लाई

 

14. Android 8.0 Oreo

इसे सबसे बड़ा व फ्रैश एंड्रॉयड वर्जन कहा जा सकता है। इसे बैटरी सेवर फीचर्स के साथ उपलब्ध किया गया है। 

PunjabKesari

 

- रीडिजाइन्ड नोटिफिकेशन शेड्स
- आसानी से मैसेज चैक करने के लिए नोटिफिकेशन डॉट्स की ऑप्शन 
- बैटरी कलर मैनेजमेंट
- नए इमोजी 
- फास्टर बूट टाइम (कम समय में ऑन होगा स्मार्टफोन)
- एप्स में ऑटो फिल पासवर्ड की सपोर्ट

 

15. Android P 9.0 (बीटा)

गूगल ने हाल ही में एंड्रॉयड P के बीटा वर्जन को रिलीज़ किया है। इसे 8 मई 2018 को रिलीज़ किया गया है। इसमें अब तक के सबसे बेहतरीन फीचर्स दिए गए हैं। 

PunjabKesari

 

- इसमें यूजर् को मिलेगा नया यूजर इंटरफेस
- नोटिफिकेशन बार के लैफ्ट में क्लॉक की मिलेगी ऑप्शन
- बैटरी सेवर मोड
- पावर ऑप्शन में स्क्रीनशॉट बटन की सुविधा
- कन्वर्सेशन के साथ एप की नोटिफिकेशन
- रीडिजाइन वॉल्यूम स्लाइडर


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!