फेक न्यूज़ की बढ़ रही समस्या को लेकर फेसबुक ने उठाया अहम कदम

  • फेक न्यूज़ की बढ़ रही समस्या को लेकर फेसबुक ने उठाया अहम कदम
You Are HereGadgets
Monday, October 29, 2018-11:10 AM
  • फेसबुक में शामिल हुआ बैकग्राउंड इन्फॉर्मेशन फीचर
  • अब खबर को रीड व शेयर करने से पहले मिलेगी सोर्स की पूरी जानकारी

गैजेट डेस्क : फेक न्यूज़ की बढ़ रही समस्या पर काबू पाने के लिए फेसबुक ने अहम कदम उठाया है। फेसबुक ने लंबे समय की टेस्टिंग के बाद आखिरकार बैकग्राउंड इन्फॉर्मेशन फीचर को रोल आउट करना शुरू कर दिया है। इसकी मदद से यूजर्स को न्यूज़ आर्टिकल और उसके पब्लिशर की जानकारी शो होगी, जिससे यूजर को खबर की गुणवत्ता का पता लगाने में मदद मिलेगी और यह भी समझने में आसानी हो जाएगी कि इस खबर को शेयर किया जाना चाहिए या नहीं। न्यूज़ सोर्स को लेकर भी अधिक जानकारी इसके जरिए मिलेगी। इसे सबसे पहले भारत, जर्मनी, फ्रांस, स्पेन और पोलैंड के लिए रोल आउट करना शुरू किया गया है। 

PunjabKesari

क्या मिलेगा इस फीचर में खास

नए बैकग्राउंड इन्फॉर्मेशन फीचर से फेसबुक यूजर्स को पब्लिशर डिटेल्स, पब्लिशर्स द्वारा प्लेटफॉर्म पर पोस्ट की गई रीसेंट स्टोरी और यह दिखने को मिलेगा कि इस आर्टिकल को आपके कौन-से दोस्त ने शेयर किया है। इसके अलावा सोर्स का डोमेन कितना पुराना है, इसकी डिटेल भी शो होगी। 

PunjabKesari

फेसबुक का बयान

कंपनी का कहना है कि इस फीचर को कई पब्लिशर्स और यूजर्स के मल्टीपल सेट्स द्वारा डेवलप किया गया है। इसे समय के साथ-साथ और भी एक्सपेंड किया जाएगा। बैकग्राउंड इन्फॉर्मेशन फीचर के जरिए यूजर्स को न्यूज़ आर्टिकल को लेकर ज्यादा जानकारी मिलेगी। इसकी मदद से यूजर्स आसानी से खबर की गुणवत्ता का पता लगा सकेंगे और न्यूज़ आर्टिकल पर वे भरोसा कर सकते हैं या नहीं, इस बात को तय कर सकेंगे। माना जा रहा है कि कंपनी द्वारा उठाए गए इस कदम से फेक न्यूज़ पर लगाम कसने में मदद मिलेगी। 

PunjabKesari

लेखक की मिलेगी जानकारी

इस फीचर की मदद से ऑथर की विकिपीडिया डिस्क्रिप्शन देखने को मिलेगी और एक फॉलो बटन व एक रीसेंट आर्टिकल भी शो होगा। वर्ष 2017 में फेसबुक ने नए फीचर को अमेरिका में टेस्ट करना शुरू किया था, जिसे अब धीरे-धीरे पूरी दुनिया तक पहुंचाया जाएगा। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News