गूगल ने दी चेतावनी, Huawei Ban से वाइट हाउस को है सिक्योरिटी रिस्क

  • गूगल ने दी चेतावनी, Huawei Ban से वाइट हाउस को है सिक्योरिटी रिस्क
You Are HereGadgets
Friday, June 7, 2019-4:45 PM

गैजेट डैस्क : Google ने ट्रम्प प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर अमरीका हुवावेई कम्पनी पर बैन जारी रखता है तो इससे अमरीका की नैशनल सिक्योरिटी को खतरा पैदा हो सकता है। फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक गूगल के सीनियर अधिकारियों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि वे हुवावेई स्मार्टफोन्स में मौजूद एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट नहीं कर पा रहे हैं जिससे चीनी कम्पनी को बढ़ावा मिला है और उसने खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम बहुत ही कम समय में तैयार कर लिया है। 

बढ़ सकती हैं हैकिंग होने की सम्भावनाएं

गूगल ने कहा है कि हुवावेई ने जिस एंड्रॉयड वर्जन को मॉडिफाई किया है वह हैकिंग जोखिमों के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकता है। यानी इससे हैकिंग होने की सम्भावनाएं बढ़ जाती हैं। 

PunjabKesari

क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि ट्रम्प प्रशासन ने चीन की टैक्नोलॉजी कम्पनी हुवावेई को बैकलिस्ट किया हुआ है। अमरीका द्वारा चीनी कम्पनी हुवावेई के सैमीकन्डक्टर, सॉफटवेयर और अन्य कम्पोनैंट्स को खरीदने पर बैन लगा हुआ है। अमरीकी सरकार का कहना है कि हुवावेई से अमरीका को सिक्योरिटी रिस्क है। क्योंकि हुवावेई अपने इक्विपमेंट्स को पूरी दुनिया की टैलीकॉम कम्पनियों को सपलाई करती है जोकि चीन को जासूसी और निगरानी करने की अनुमति देते हैं। 

हुवावेई और इसके 67 सहयोगियों पर लगी है रोक

अमरीकी डिपार्टमेंट ऑफ कमर्स ने हुवावेई और इसके 67 सहयोगियों को नैटवर्किंग इक्विपमेंट और स्मार्टफोन ऑपरेशन्स को अंजाम देने पर रोक लगाई हुई है। अमरीका के सपलायर भी बिना किसी स्पैशल अप्रूवल के हुवावेई के प्रोडक्ट्स को अमरीका में सपलाई नहीं कर सकते हैं। 

PunjabKesari

रिपोर्टर्स के ग्रुप को हुवावेई की अपील

हुवावेई टैक्नोलॉजी के चेयरमैन Liang Hua ने अमरीकी रिपोर्टर्स के छोटे ग्रुप को चीन में कम्पनी विजिट कर इसके ऑपरेशन्स को देखने की सलाह दी है। इसी लिए गूगल भी अब इस समस्या को सुलझाने के लिए अमरीकी सरकार को उपभोक्ताओं के फायदे को लेकर समाधान निकलने को कह रही है।

गूगल को है इस बात का डर

असल में बात यह है कि गूगल द्वारा एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम के अपडेट्स पर बैन लगाने के बाद हुवावेई ने बहुत ही कम समय में खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम तैयार कर लिया है। इसी लिए अब इस निर्णय से गूगल के बिजनेस पर बुरा असर पड़ रहा है। ऐसे में कम्पनी अमरीकी सरकार को हुवावेई बैन पर समाधान निकलने को कह रही है।

PunjabKesari
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh