Facebook की कमी को खोजकर इनाम पाने में भारतीय रहा टॉप पर

  • Facebook की कमी को खोजकर इनाम पाने में भारतीय रहा टॉप पर
You Are HereGadgets
Friday, September 6, 2019-1:14 PM

गैजेट डेस्क : फेसबुक डेटा चोरी और इससे संबंधित खतरों का पता लगाने के लिए अपने सबसे बड़े यूज़र बेस भारत में साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर्स को भारी रकम दे रहा है। सोशल मीडिया कंपनी के अनुसार 2018 में,इसने 100 से अधिक देशों के सिक्योरिटी रिसर्चर्स को $ 1.1 मिलियन से अधिक का पुरस्कार दिया था। इसके साथ रिसर्चर्स को अब तक $ 7.5 करोड़ से अधिक का कुल भुगतान किया जा चुका है। फेसबुक ने 2011 में अपना साइबर सिक्योरिटी पेआउट प्रोग्राम बग बाउंटी स्कीम कोलॉन्च किया। पेआउट के मामले में भारत, अमेरिका और क्रोएशिया शीर्ष तीन देश हैं। 


 

Facebook बाउंटी प्रोग्राम में इन्होने पेहराया परचम 

 

Image result for india top in facebook bug bounty program

गुरुवार को अमेरिकी ऑनलाइन प्रकाशक टेक क्रंच ने करोड़ों उपयोगकर्ताओं के फोन नंबर चोरी होने की सूचना दी थी। एक सर्वर के जरिए 41.9 करोड़ यूजर्स का डेटा चुराया जा रहा था। टेक क्रंच को उदयपुर के साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर सनम जैन ने बताया, जो कि नीदरलैंड के गैर-लाभकारी GDI फाउंडेशन के सदस्य हैं। बता दें कि बग बाउंटी प्रोग्राम के तहत जैन ने यह काम नहीं किया।

 

फेसबुक के सिक्योरिटी इंजीनियरिंग प्रबंधक डैन गार्फिंकल ने कहा कि जब से कंपनी ने बग बाउंटी कार्यक्रम शुरू किया है, भारत बाउंटी पेआउट और बग रिपोर्ट की क्वालिटी में आगे रहा है। उन्होंने कहा, 'हम भारत में अपने बग बाउंटी समुदाय को महत्वपूर्ण मानते हैं। वे लगातार हमारे प्लेटफॉर्म का उपयोग करने वाले लोगों की रक्षा करने में हमारी मदद करते हैं।'

 

Image result for india top in facebook bug bounty program

 

पुलिस के सोशल मीडिया और साइबर क्राइम विभागों को प्रशिक्षित करने वाले गौतम कुमावत को फेसबुक कार्यक्रम के तहत पुरस्कृत किया गया है। उन्होंने बताया कि भारत का बग बाउंटी कम्युनिटी देश में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की लोकप्रियता को ध्यान में रखते हुए काफी हद तक बढ़ा है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Harsh Pandey