मारुति 800 के पहले ग्राहक ने नहीं बदली जीवन भर अपनी कार, इंदिरा गांधी ने सौंपी थी चाबी

  • मारुति 800 के पहले ग्राहक ने नहीं बदली जीवन भर अपनी कार, इंदिरा गांधी ने सौंपी थी चाबी
You Are HereGadgets
Monday, September 14, 2020-5:57 PM

ऑटो डैस्क: एक समय था जब लोकॉस्ट कारों के मामले में मारुति 800 पहले नंबर पर आती थी। मारुति 800 को देश के आम आदमी की पहली कार कहा जाता है। इसके आने के बाद भारत में कारों के बाजार को 1983 के बाद तेजी मिली थी। दरअसल मारुति 800 की लॉन्चिंग के मौके पर देश की तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी भी मौजूद थीं और उन्होंने ही पहली कार की चाबी मिस्टर हरपाल सिंह को सौंपी थी। 

PunjabKesari

आपको बता दें कि मारुति 800 लेने का यह मौका हरपाल सिंह को लकी ड्रॉ के जरिए मिला था। कंपनी ने उस वक्त 28 लाख मारुति 800 कारों का उत्पादन किया था, जिनमें से 26 लाख कारें भारत में ही बेची गई थीं। मारुति 800 कार के पहले ग्राहक रहे हरपाल सिंह ने पूरी जिंदगी इसी कार की सवारी की थी। इंडियन एयरलाइन के कर्मचारी रहे हरपाल सिंह दिल्ली के ग्रीन पार्क इलाके में रहते थे। उस वक्त 47,500 रुपये हरपाल सिंह ने यह कार खरीदी थी।

हरपाल सिंह के छोटे दामाद अमरदीप वालिया के मुताबिक हरपाल सिंह को कई लोग उस कार के लिए एक लाख रुपये तक देने को तैयार थे, लेकिन उन्होंने इसे बेचने से इनकार कर दिया था।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Latest News

Popular News