NASA के सर्वर पर हैकर्स ने किया अटैक, मंगल अभियान से जुड़ी जानकारी हुई चोरी

  • NASA के सर्वर पर हैकर्स ने किया अटैक, मंगल अभियान से जुड़ी जानकारी हुई चोरी
You Are HereTop Stories
Saturday, June 22, 2019-4:03 PM

गैजेट डैस्क : अमरीकी स्पेस एजेंसी NASA हैकिंग का शिकार हो गई है और इस दौरान हैकर्स ने नासा के सर्वर को ही अपना शिकार बना दिया है। नासा के ऑफिस ऑफ इंस्पैक्टर जनरल (OIG) द्वारा इसी सप्ताह प्रकाशित एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि अप्रैल 2018 में हैकर्स ने एजेंसी में अनाधिकृत रूप से एंट्री ली और मंगल मिशन से संबंधित डाटा को चोरी किया है। zdnet की रिपोर्ट में कहा गया है कि हैकर्स ने एक छोटी-सी डिवाइस (Raspberry Pi) के जरिए नासा के जेट प्रोपल्सन प्रयोगशाला (JPL) के IT नेटवर्क में सेंध लगाई और 500MB डाटा चोरी किया है। 

PunjabKesari

ऐसे हुआ अटैक

OIG द्वारा प्रकाशित 49 पन्नों की रिपोर्ट में बताया गया है कि हैकर्स ने अटैक करने के लिए किसी बाहरी सिस्टम की मदद ली और एक शेयर्ड नेटवर्क गेटवे का इस्तेमाल किया, जिसके बाद हैकर्स उस नेटवर्क तक पहुंचने में कामयाब हो गए जहां मंगल अभियान से संबंधित जानकारी मौजूद थी।

  • आपको बता दें कि नासा के JPL विभाग का मुख्य काम सौर मंडल में ग्रहों की परिक्रमा करने वाले उपग्रहों और विभिन्न सैटेलाइट पर नजर रखना है। 

PunjabKesari

नासा को सता रहा यह डर

रिपोर्ट की जांच करने वाले जांचकर्ताओं का कहना है कि इस अटैक के अलावा हैकरों ने अप्रैल 2018 में JPL के DSN आईटी नेटवर्क तक भी अपनी पहुंच बनाई और नैटवर्क्स को आपस में डिस्कनैक्ट कर दिया। अभी यह भी डर नासा को सता रहा है कि कहीं हैकर्स ने मुख्य सर्वर में ना सेंध लगा दी हो।

PunjabKesari

कहीं इसके पीछे चीन का हाथ तो नहीं

अमरीकी न्याय विभाग ने 2018 के दिसंबर में दो चीनी नागरिकों पर क्लाउड प्रोवाइडर, नासा और अमरीकी नौसेना को हैक करने की कोशिश का आरोप लगाया था। विभाग ने कहा था कि ये दोनों नागरिक चीनी सरकार के हैकिंग यूनिट APT10 में शामिल हैं। ऐसे में यह भी कहा जा रहा है कि इस हैकिंग में भी APT10 टीम का हाथ हो सकता है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh