आरसी से लेकर ई-चालान तक, ड्राइविंग से जुड़े नियमों में आज से हुए ये अहम बदलाव

  • आरसी से लेकर ई-चालान तक, ड्राइविंग से जुड़े नियमों में आज से हुए ये अहम बदलाव
You Are HereGadgets
Thursday, October 1, 2020-12:50 PM

ऑटो डैस्क: गाड़ी से जुड़े जरूरी दस्तावेजों को हमेशा साथ में रखने वाले नियम में आज से बदलाव हो गया है। सरकार ने डिजिटाइजेशन को बढ़ावा देने और ड्राइवरों के उत्पीड़न को रोकने के लिए सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स, 1989 में संशोधन किए हैं। आज से गाड़ी की आरसी जैसे दस्तावेजों की मूल कॉपी को साथ में रखने की जरूरी नहीं होगी।

आइये जानते हैं कौन से नियमों में क्या हुए हैं बदलाव

गाड़ी के दस्तावेजों की अब फिजिक वेरिफिकेशन जरूरी नहीं 

आज यानी 1 अक्टूबर से वाहन से जुड़े सभी दस्तावेजों की डिजिटल कॉपी को स्वीकार किया जाएगा। जांच के लिए फिजिकल फॉर्म को पास रखने की कोई जरूरत नहीं है। ई-चालान सरकार के डिजिटल पोर्टल पर मुहैया कराए जाएंगे ताकि नियमों का उल्लंघन करने वाले उसके बारे में पूरी जानकारी हासिल कर सकें।

खत्म हो जाएगी गैरजरूरी चेकिंग

नियम तोड़ने वाले लोगों का रिकॉर्ड अब इलेक्ट्रॉनिकली मेंटेन किया जाएगा। इस दौरान अथॉरिटीज़ की ओर से ड्राइवर के व्यवहार की भी मॉनिटरिंग की जाएगी। सिर्फ इतना ही नहीं इंस्पेक्शन की टाइम स्टांप और वर्दी में मौजूद पुलिस अधिकारी की तस्वीर भी पोर्टल पर अपलोड होगी। ऐसा इसलिए किया जाएगा ताकि गैरजरूरी चेकिंग को खत्म किया जा सके।

कहां रखने होंगे अब आपको दस्तावेज

वाहन चालकों को अब गाड़ी के दस्तावेज और लाइसेंस को सेंट्रल गवर्नमेंट के ऑनलाइन पोर्टल डिजिलॉकर और एम-परिवहन पर सेव करने होंगे। सरकार ने डिजिलॉकर को इसी मकसद से लॉन्च किया था कि गवर्नेंस से जुड़े तमाम काम पेपरलेस किए जा सकें।

हाथ में फोन पकड़े होने पर होगा चालान

ड्राइविंग करते समय अगर आप फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आब यह आपको भारी पड़ेगा। नए नियमों के मुताबिक रूट नेविगेशन या फिर किसी अन्य काम के लिए भी फोन का इस्तेमाल आपको सावधानी से करना होगा और इस दौरान फोन आपके हाथ में नहीं होना चाहिए। अगर ड्राइविंग करते वक्त फोन हाथ में दिखता तो चालान हो सकता है।

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Latest News

Popular News