सामने आया फ्रॉड का नया तरीका, SIM स्वैपिंग के जरिए बैंक से उड़े 18 लाख

  • सामने आया फ्रॉड का नया तरीका, SIM स्वैपिंग के जरिए बैंक से उड़े 18 लाख
You Are HereGadgets
Monday, August 19, 2019-11:12 AM

गैजेट डैस्क : SIM स्वैपिंग के जरिए फ्रॉड की घटनाएं आजकल काफी बढ़ रही हैं। जालसाज फ्रॉड के नए तरीके के जरिए लोगों को लाखों रुपए का चूना लगा रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के एक कारोबारी के बैंक अकाउंट से 18 लाख रुपए की चोरी हो गई है। इस ठगी को अंजाम देने के लिए जालसाज ने रिजस्टर्ड बैंक अकाउंट नम्बर की डुप्लीकेट सिम बनवाई और उससे इस घटना को अंजाम दिया। 

PunjabKesari

क्या है सिम स्वैपिंग तकनीक

सिम स्वैपिंग का मतलब है 'सिम की क्लोनिंग करना' यानी एक डुप्लीकेट सिम बनना। इसमें आपके फोन नम्बर को एक नए सिम कार्ड पर रजिस्टर कर लिया जाता है। ऐसा होने पर आपका सिम कार्ड बंद हो जाता है और फोन से सिग्नल गायब हो जाते हैं। इसके बाद  नए रजिस्टर हुए सिम पर ओटीपी का इस्तेमाल कर कोई दूसरा शख्स आपके पैसे अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर लेता है।

PunjabKesari

इस तरह होता है अटैक

इस दौरान यूजर्स को एक कॉल आती है जिसमें कोई व्यक्ति दावा करता है कि वह एयरटेल, वोडाफोन या फिर किसी अन्य सर्विस प्रवाइडर का एग्जिक्युटिव बोल रहा है। ऐसे में यूजर को इंटरनैट स्पीड बढ़ाने की बात की जाती है और वे आपसे सिम के पीछे लिखे 20 डिजिट का यूनिक नंबर मांगने की कोशिश करते हैं।

PunjabKesari

नम्बर देने के बाद वे आपसे 1 प्रेस करने को कहते हैं और सिम स्वैप का प्रोसेस पूरा हो जाता है। इसके बाद आपका नम्बर बंद हो जाएगा और स्कैमर के सिम कार्ड वाले फोन में पूरे टावर आ जाएंगे। अगर आपके साथ भी कुछ इस तरह का होता है तो तुरंत आप अपने बैंक को इनफोर्म करें। 
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh