गूगल Play Store से हटाने जा रही ये एप्स, जानें इसके पीछे का कारण

  • गूगल Play Store से हटाने जा रही ये एप्स, जानें इसके पीछे का कारण
You Are HereLatest News
Sunday, January 20, 2019-2:58 PM

गैजेट डेस्कः  गूगल अपने Google Play स्टोर से ऐसे एप्स हटाने जा रही है, यूजर्स के कॉल लॉग्स और एसएमएस डाटा के लिए परमिशन चाहते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले दो वर्षों में एंड्रॉइड एप्स और दूसरी सर्विसेस के जरिए 31 मिलियन यूजर्स के कॉलिंग और मैसेज डाटा लीक हो चुके हैं। गूगल ने पिछले वर्ष अक्टूबर में ही कहा था कि एंड्रॉइड एप्स को यूजर्स के निजी डाटा तक पहुंच बनाने की परमिशन नहीं दी जाएगी, क्योंकि बहुत से एप्स इसका गलत इस्तेमाल करते हैं।

PunjabKesari


कंपनी के अधिकारी का बयान 
गूगल प्ले के डायरेक्टर ऑफ प्रोडक्ट मैनेजमेंट पॉल बैंकहेड (Paul Bankhead) ने कहा है कि हमने यह नई पॉलिसी इसलिए लागू करने जा रहे हैं कि यूजर्स के सेंसिटिव डाटा तक एप्स की पहुंच न हो सके, क्योंकि इसकी कोई जरूरत एप के यूज के लिए नहीं होती है। गूगल इस बात का भी रिव्यू करेगी कि किसी एप को यूजर के डाटा की जरूरत क्यों होती है और इसके लिए परमिशन क्यों मांगी जाती है। 

डाटा का गलत इस्तेमाल 
यह साफ है कि इससे यूजर का पर्सनल डाटा सेफ नहीं रह जाता और उसका गलत इस्तेमाल हो सकता है। गूगल का कहना है कि ऐसे हजारों एप्स हैं जिनके नए वर्जन सामने आए हैं और जिन्हें इंस्टॉल करने के लिए यूजर के कॉल या एसएमएस डाटा की जानकारी हासिल करने की कोई जरूरत नहीं है। 

PunjabKesari

डिक्लेरेशन का समय 
गूगल ने कहा है कि डेवलपर्स को 9 मार्च तक एक डिक्लेरेशन देना होगा जिसमें यह बताना होगा कि वे पर्सनल डाटा के लिए परमिशन मांगेगे या नहीं। गूगल ने कहा है कि उसके पास ऐसे एप्स की पूरी लिस्ट है, जो कॉल लॉग और टेक्स्ट मैसेज तक पहुंच के लिए परमिशन मांगते हैं।

 

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Jeevan