फेसबुक ने सस्पेंड किए 200 एप्स, यूजर्स के डाटा को एक्सैस करने का लगा आरोप

  • फेसबुक ने सस्पेंड किए 200 एप्स, यूजर्स के डाटा को एक्सैस करने का लगा आरोप
You Are HereTop Stories
Tuesday, May 15, 2018-1:49 PM

जालंधर : कैंब्रिज एनालिटिका स्कैंडल के बाद फेसबुक ने अपनी एप्स सहित यूज़र की डाटा पॉलिसी में कई छोटे बड़े बदलाव किए हैं। अब हजारों एप्पस की जांच के बाद फेसबुक ने यूजर्स की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए करीब 200 एप्स को सस्पैंड कर दिया है। फेसबुक ने आरोप लगाते हुए कहा है कि ये एप्स यूजर्स के डाटा को जरूरत से ज्यादा एक्सैस कर रही थीं जिस वजह से हमने इन्हें अपने प्लैटफोर्म से हटा दिया है। 

PunjabKesari

 

संवेदनशील एप्स की चल रही जांच

फेसबुक के प्रोडक्ट पार्टनरशिप वाईस प्रेसिडेंट इमी आर्कबोंग (Ime Archibong) ने जानकारी देते हुए बताया है कि फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है। हमारे पास एक्सपर्ट्स की एक बड़ी टीम है जो संवेदनशील एप्स की जांच कर रही हैं। उन्होंने बताया कि अभी इस क्षेत्र में और काम करने की आवश्कता है, जिससे हमे पता चल सकेगा कि कितनी एप्स और हैं जो यूजर्स के डाटा का गलत तरीके से इस्तेमाल कर रही हैं। 

PunjabKesari

 

जुकरबर्ग ने कि‍या था डाटा सि‍क्‍यॉरि‍टी का वादा 

करीब 8 करोड़ यूजर्स का डाटा चोरी होने के बाद फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने  हर एक एप की जांच पड़ताल करने का वादा किया था। उनका मकसद यूजर्स का डाटा एक्सैस करने वाली एप्स को लोगों तक पहुंचाने से रोकना था। इमी आर्कबोंग (Ime Archibong) ने बताया है कि जांच दो चरणों में चल रही है। पहले चरण में यूजर्स के डाटा तक पहुंच रखने वाली एप्स का पता लगाया जा रहा है। वहीं दूसरे चरण के तहत एप को लेकर संदेह होने पर पूछताछ की जा रही है। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन