भूकंप के आने पर अब नहीं गिरेंगी दीवारें, विकसित की गई दुनिया की सबसे मजबूत कंक्रीट

  • भूकंप के आने पर अब नहीं गिरेंगी दीवारें, विकसित की गई दुनिया की सबसे मजबूत कंक्रीट
You Are Heretechnology
Sunday, October 15, 2017-6:13 PM

जालंधर : भूकम्प आने पर इमारतों के गिरने से जान-माल का काफी नुक्सान होता है। इसी बात पर ध्यान देते हुए ऐसी परिस्थिति में लोगों की जान बचाने के लिए दुनिया की सबसे मजबूत कंक्रीट विकसित की गई है जो सबसे खतरनाक भूकंप के आने पर भी दीवार को गिरने नहीं देगी। माना जा रहा है कि यह कंक्रीट दीवार को भूकंप रोधी बना देगी। कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया के शोधकर्ताओं द्वारा विकसित की गई इस दुनिया की सबसे मजबूत कंक्रीट (UBC) के बारे में बताया गया है कि इससे बनी दीवार वैसे तो भूकम्प के आने पर गिरेगी ही नहीं, लेकिन अगर भूकम्प अब तक आए भूचालों से भी तीव्र होगा तब इस कंक्रीट से बनी दीवार फ्लैक्सिबली हिलना शुरू कर देगी लेकिन टूटेगी नहीं। 

 

फ्लैक्सिबल है ये कंक्रीट
इस EDCC (ईको फ्रैंडली डक्टाइल सीमैंटीशियस कम्पोसिट) नामक कंक्रीट को पॉलीमर बेस्ड फाइबर्स से बनाया गया है जो इसे मजबूती प्रदान करता है। यह कंक्रीट फ्लैक्सीबल है यानी जमीन के ज्यादा हिलने पर यह टूटने की बजाय फ्लैक्सिबल तरीके से हिलना शुरू कर देती है और भूकम्प के रुकने पर अपनी पहली वाली पोजीशन में आ जाती है। 

PunjabKesari

 

9.1 मैग्नीच्यूड पर किया गया टैस्ट
इस कंक्रीट में लगभग 70 प्रतिशत सीमैंट को नए फ्लाईएश नामक पदार्थ से रिप्लेस किया गया है। इस EDCC कंक्रीट से बनाई गई 10 मि.मी. मोटी परत पर लैब में टैस्ट किया गया है। टैस्ट के दौरान इस कंक्रीट से बनाई गई छोटी दीवार पर वर्चुअली मशीन से 9.0 से 9.1 मैग्नीच्यूड पर भूकम्प बनाया गया। आपको बता दें कि ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि साल 2011 में जापान के टोहोकू में इसी तरह का भूकम्प आया था जिसमें काफी नुक्सान हुआ था। इस खतरे से बचने के लिए ही इस तरह का टैस्ट किया गया है जिसमें दीवार लचीले पदार्थ के जैसे हिलने लगी लेकिन टूटी नहीं। 

 

कनाडा में बनेगा इस कंक्रीट से पहला स्कूल
EDCC कंक्रीट से कनाडा के वेंकूवर में डा. एनी बी. जेमिसन एलीमैंट्री स्कूल को बनाया जाएगा। जानकारी के मुताबिक भारत के उत्तराखंड में भी एक स्कूल को इस मैटीरियल से बनाने की योजना है क्योंकि आमतौर पर यहां भूचाल आते रहते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि यह EDCC कंक्रीट पाइपलाइन्स, फुटपाथ, सीमावर्ती क्षेत्र और इंडस्ट्री आदि को बनाने में भी काफी काम की साबित होगी। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !