ईमेल के जरिए इस इंडियन एप से हो रहा था फ्रॉड, गिरफ्तार किया गया 22 वर्षीय डिवैल्पर

  • ईमेल के जरिए इस इंडियन एप से हो रहा था फ्रॉड, गिरफ्तार किया गया 22 वर्षीय डिवैल्पर
You Are HereGadgets
Sunday, December 29, 2019-1:58 PM

गैजेट डैस्क: आज के दौर में डिजिटल फ्रॉड काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। बेंगलुरु के 22 वर्षिय एप डिवैल्पर रुपेश भंडारी को फ्रॉड करने वाली एप को डिवैल्प करने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है। ये एप फ्रॉड करने वाले फर्जी ईमेल कस्टमर्स को भेज सकती थी व उनके बैंक अकाउंट को चपत लगा सकती थी।

  • Email Spoofer नाम की इस एप के जरिए बैंक, टेलिकॉम कंपनियों और मैट्रिमोनियल साइट्स पर फर्जी ईमेल भेजे जा सकते हैं। ऐसे मामलों में यूजर्स को लगता है कि उन्हें बैंक या कंपनी की ओर से ही ये ईमेल आया है, जिसके बाद वे अपनी डिटेल्स शेयर कर देते हैं और वे आसानी से फ्रॉड का शिकार बन जाते हैं।

PunjabKesari

इस तरह पकड़ में आई ये एप

दिल्ली पुलिस साइबर सेल को इस एप के बारे में उस समय पता चला जब कई विक्टिम्स ने फ्रॉड की शिकायत की और बताया कि उन्हें बैंक, मैट्रिमोनियल साइट या फिर जॉब साइट की ओर से ऑफर से जुड़े मेल्स आए हैं जिसके बाद उन्हें फ्रॉड का शिकार बनाया गया।

PunjabKesari
जांच के बाद कम्पनियों ने इन ईमेल्स को फेक बताया। ये जांच चलती रही जिसके बाद पुलिस ने उत्तर प्रदेश के मूल निवासी रुपेश भंडारी जोकि बेंगलुरु में काम करता है उसे पकड़ लिया। पुलिस का कहना है कि भंडारी के लैपटॉप से 1.5 लाख ईमेल्स मिले हैं।

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh