अमेजन, फ्लिपकार्ट के बल पर चमकेगा पार्सल ढुलाई कारोबार

  • अमेजन, फ्लिपकार्ट के बल पर चमकेगा पार्सल ढुलाई कारोबार
You Are HereLatest News
Monday, April 16, 2018-5:42 AM

नई दिल्ली: ई-रिटेल क्षेत्र देश में पार्सल पहुंचाने के बाजार में बड़ा उथल-पुथल करने वाला साबित हो सकता है और इसमें अमेजन तथा फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी आनलाइन खुदरा कंपनियों की भूमिका अग्रणी होगी। 

चालू वित्त वर्ष में ई-रिटेल क्षेत्र का पार्सल पहुंचाने के बाजार में योगदान 5,000 करोड़ रुपए रहने की उम्मीद है। इसमें हवाई कार्गो (विमान से माल पहुंचाने) के कारोबार का हिस्सा करीब 1,000 करोड़ रुपए होगा। एक रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। पिछले सप्ताह जारी एक्सप्रैस उद्योग रिपोर्ट 2018 में कहा गया है कि ई-कामर्स कंपनियों ने पार्सल भेजने के परंपरागत परिचालन को चुनौती दी है और कई नए अवसरों का दोहन किया है तथा मूल्यवर्धन के नए रास्ते खोले हैं। 

रिपोर्ट कहती है कि घरेलू उद्योग में कुल 5,000 करोड़ रुपए का योगदान देने वाले एयर कार्गो एक्सप्रैस को ई-कामर्स क्षेत्र के आगे बढऩे से काफी फायदा होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि ई-खुदरा उद्योग घरेलू जमीनी एक्सप्रैस क्षेत्र में 4,000 करोड़ रुपए का और घरेलू हवाई एक्सप्रैस क्षेत्र में 1,000 करोड़ रुपए का योगदान करेगा।  


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Pardeep