हड्डी टूटने पर इलाज करने के काम आएगा 3D-प्रिंटेड मैटीरियल

  • हड्डी टूटने पर इलाज करने के काम आएगा 3D-प्रिंटेड मैटीरियल
You Are HereLatest News
Thursday, April 4, 2019-4:40 PM

गैजेट डैस्क: हड्डी टूटने पर कई बार मामला इतना जटिल होता है कि उसका इलाज करने में डॉक्टर को काफी समस्या आती है। इसी बात पर ध्यान देते हुए वैज्ञानिकों ने एक ऐसा नए तरीके का 3D-प्रिंटेड मैटीरियल बनाया है जो ओस्टियोकोन्ड्रल (osteochondral) इंजरी को ठीक करने के काम आएगा। आपको बता दें कि हड्डियों के अंत में चिकनी सतह पर ज्वाइंट के अंदर की ओर क्रैक आ जाने से उसे ओस्टियोकोन्ड्रल इंजरी कहा जाता है जिसका इलाज करना काफी कठिन होता है, लेकिन आने वाले समय में आसानी से इसका इलाज किया जा सकेगा। 

बिना किसी नुक्सान के चोट होगी ठीक

इस मैटीरियल को सबसे पहले अमरीका की यूनिवर्सिटी ऑफ मायरलैंड और ह्यूस्टन स्थित राइस यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने साथ मिल कर बनाया है। यह 3D-प्रिंटेड मैटीरियल हड्डी के बीच लगाने के बाद साथ लगने वाली कोशिकाओं को आसानी से मूव करने में मदद करेगा। हड्डी में लगी चोट के ठीक हो जाने पर यह बिना किसी भी तरह का नुक्सान पहुंचाए अंदर ही घुल जाएगा जिससे मरीज को कोई परेशानी नहीं होगी। 

PunjabKesari

अभी और बेहतर बनाई जाएगी यह तकनीक

इस 3D-प्रिंटेड मैटीरियल को सॉफ्ट पोलीमर से तैयार किया गया है जिसे आने वाले समय में स्पोर्ट्स पर्सन्स के घावों को ठीक करने के काम में लाया जाएगा। अब वैज्ञानिक इस बात को लेकर काम कर रहे हैं कि इस पार्ट को ऐसे डिजाइन किया जाए कि यह प्रत्येक मरीज के इंजरी होने पर जटिल से जटिल केसों में भी उपयोग में लाया जाए। माना जा रहा है कि इस टैक्नोलॉजी की मदद से मरीजों को इलाज करवाने में कुछ आसानी रहेगी।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh