दुनिया का सबसे खतरनाक लैपटॉप हो रहा नीलाम

  • दुनिया का सबसे खतरनाक लैपटॉप हो रहा नीलाम
You Are HereTop Stories
Monday, May 27, 2019-7:33 PM

- 1 मिलियन अमरीकी डॉलर से शुरू हुई नीलामी

गैजेट डैस्क : लैपटॉप खरीदते समय हर एक व्यक्ति यही सोचता है कि उसे एक ऐसा लैपटॉप मिले जो वायरस से उसके डाटा को सुरक्षा प्रदान कर सके। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया के सबसे खतरनाक लैपटॉप की नीलामी शुरू की गई है। इस लैपटॉप में दुनिया के सबसे खतरनाक वायरस भरे हुए हैं जिस वजह से इसकी नीलामी 1 मिलियन अमरीकी डॉलर से शुरू की गई है। 

लैपटॉप में इंस्टाल हैं 6 खतरनाक वायरस

द वर्ज की रिपोर्ट के मुताबिक यह सैमसंग का 10.2 इंच NC10-14GB लैपटॉप है जिसमें 6 खतरनाक वायरसिस को इंटरनैट आर्टिस्ट Guo O Dong द्वारा इंस्टाल किया गया है। उन्होंने बताया है कि वैसे तो इसका उपयोग किया जा सकता है लेकिन इंटरनैट और USB केबल से कनैक्ट करने की मनाही है। 

PunjabKesari

इस कारण लैपटॉप में भरे गए वायरस

ऑनलाइन टैक्नोलॉजी न्यूज वैबसाइट द वर्ज को इंटरनेट आर्टिस्ट Guo O Dong ने बताया है कि इस लैपटॉप को बनाने के पीछे लक्ष्य था कि डिजिटल वर्ल्ड को प्रभावित करने वाले खतरों को एक ही डिवाइस में भर दिया जाए और देखा जाए कि संयुक्त में यह कम्पयूटर को कितना डैमेज करते हैं। इसके अलावा जांच के लिए भविष्य में भी इनका उपयोग किया जा सकेगा। 

इनमें शामिल हैं सबसे ज्यादा नुक्सान पहुंचाने वाले 2 वायरस

  1. पहले नम्बर पर ILOVEYOU वायरस है जिसने वर्ष 2000 में यूजर्स के इमेल्स के साथ एक लवलैटर अटैच करना शुरू कर दिया था। 
  2. दूसरे नम्बर पर वर्ष 2017 में सामने आया WannaCry रैनसमवेयर है जिसने अस्पतालों और कारखानों में मौजूद कम्पयूटर्स को शटडाउन कर दिया था। इस वायरस को लेकर खुफिया एजेंसियों ने उत्तर कोरिया को दोषी ठहराया था।

PunjabKesari

अब तक 95 बिलीयन डॉलर्स का नुक्सान पहुंचा चुके हैं ये वायरस

इंटरनैट आर्टिस्ट Guo O Dong ने कहा कि "इनमें से WannaCry रैनसमवेयर ने UK की नैशनल हैल्थ सर्विस को सबसे ज्यादा लगभग 100 मिलीयन डॉलर का नुकसान पहुंचाया था। वहीं कुल मिला कर इन 6 वायरसिस ने अब तक 95 बिलीयन का नुक्सान किया है"। अब इन्हें सैमसंग के एक लैपटॉप में भर कर सिर्फ ऑनलाइन नीलाम किया जा रहा है। 

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh