सरकार द्वारा FDI नियमों में बदलाव के बाद , Apple आईफोन , आईपैड की करेगा ऑनलाइन सेल

  • सरकार द्वारा FDI नियमों में बदलाव के बाद , Apple आईफोन , आईपैड की करेगा ऑनलाइन सेल
You Are HereGadgets
Thursday, August 29, 2019-4:31 PM

गैजेट डेस्क : Apple कंपनी कुछ ही महीनों के भीतर भारत में अपने डिवाइसिसकी ऑनलाइन बिक्री शुरू करने के लिए तैयार है। टेक जर्नलिस्ट ओम मालिक ने कहा कि भारत सरकार द्वारा नए FDI नियमों से लाभ उठाते हुए दुनिया के सबसे तेजी से बढ़ते स्मार्टफोन बाजार को विदेशी ब्रांडों के लिए अधिक आकर्षक बना दिया गया है।

बता दें कि बुधवार को मोदी सरकार ने उन एफडीआई (फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट) नियमों को आसान बना दिया, जो Apple जैसी कंपनियों को स्थानीय स्तर पर अपने उत्पादन का 30% स्रोत के लिए मजबूर करते थे। यह एक ऐसी आवश्यकता थी जिसको लेकर iPhone निर्माता वर्षों से लॉबिंग रही थी।

इस नियम ने इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांडों के लिए एक समस्या खड़ी कर दी थी क्योंकि इसके अधिकांश उपकरण और घटक चीन में निर्मित हैं। सरकार ने तथाकथित एकल ब्रांड खुदरा विक्रेताओं को ऑफलाइन स्टोर से पहले ऑनलाइन स्टोर स्थापित करने की अनुमति दी।

 

Apple अभी इस तरह बेचता है भारत में अपने प्रोडक्ट्स 

 

Image result for apple fdi india

 

अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर को बढ़ाने के साथ, नई दिल्ली के नवीनतम निवेश नियम Apple को बढ़ावा दे सकते हैं, जिससे यह देश में इसकी बिक्री बढ़ सकती है और संभवतः एक वैकल्पिक आपूर्ति श्रृंखला का निर्माण करके चीन पर भारत अपनी उच्च निर्भरता को कम करने में मदद कर सकता है। 


ऐप्पलत आने वाले महीनों में अपने आईफोन, आईपैड और ऐप्पल मैक कंप्यूटरों की ऑनलाइन बिक्री शुरू कर देगी। इसने भारत में अपनी स्वामित्व वाली ब्रिकएंड मोर्टार स्टोर के मुंबई स्थान के अगले साल खुलने की संभावना है जताई है। ऑनलाइन बेचना भारत जैसे देश में Apple के लिए एक बड़ा कदम होगा जहां ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर नकली उत्पाद खरीदारों के अविश्वास को बढ़ा चुका है। 

 

Image result for apple fdi india


फ़ोन निर्माता के कुछ पुराने डिवाइसिस को ताइवानी ठेकेदार विस्ट्रॉन कॉरपोरेशन द्वारा बंगलौर की एक फैक्ट्री में इकट्ठा किया गया है, जबकि दुनिया की सबसे बड़ी कॉन्ट्रैक्ट निर्माता कंपनी, फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी ग्रुप, चेन्नई के पास एक फैक्ट्री में ऐप्पल के नवीनतम iPhone X की असेंबली का टेस्टिंगकरती है।

Apple के पास भारत के तेजी से बढ़ते स्मार्टफोन बाजार का एक बड़ा हिस्सा है, क्योंकि इसकी कीमतें औसतन भारतीयों की पहुंच से परे 20% के रूप में ज्यादा हैं। 2018 और 2019 की शुरुआत में प्रतिष्ठित iPhones की बिक्री में गिरावट आई, जिससे फोन निर्माता को अपने नवीनतम मॉडलों पर भी भारी छूट देने के लिए मजबूर होना पड़ा।

Related image

 

1.3 अरब जनसँख्या वाला भारत स्मार्टफोन निर्माताओं के लिए आखिरी बचा हुआ बड़ा बाजार है और एफडीआई नए नियमों से एप्पल के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से अपनी खुदरा बिक्री और ब्रांडिंग को नियंत्रित करने का मार्ग प्रशस्त हुआ है। एप्पल वर्तमान में फ्रैंचाइज़ी स्टोर्स और ऑनलाइन रिटेल प्लेटफ़ॉर्म जैसे अमेज़न इंडिया और वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली फ्लिपकार्ट ऑनलाइन सर्विसेज प्राइवेट के माध्यम से बेचता है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Harsh Pandey