एयरटैल एप में सामने आई सुरक्षा खामी, लीक हो सकता था 30 करोड़ यूजर्स का डेटा

  • एयरटैल एप में सामने आई सुरक्षा खामी, लीक हो सकता था 30 करोड़ यूजर्स का डेटा
You Are HereGadgets
Saturday, December 7, 2019-1:21 PM

गैजेट डैस्क: आप अगर भारतीय टैलिकॉम कम्पनी एयरटैल के यूजर्स हैं तो यह खबर आपसे जुड़ी हुई है। एयरटैल की मोबाइल एप में गंभीर सुरक्षा खामी का पता लगा है जिसके चलते करीब 30 करोड़ यूजर्स का डाटा चोरी हो सकता था। यह सुरक्षा खामी सामने आने के बाद कम्पनी ने इस समस्या को ठीक तो कर लिया है। लेकिन इससे कितने यूजर्स प्रभावित हुए हैं यह जानकारी अभी सामने नहीं आई है।

एप की API में थी खामी

इस सुरक्षा खामी को एयरटैल एप की API यानी एप्पलिकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस में पाया गया है। API के जरिए एयरटैल यूजर के पर्सनल डाटा तक हैकर्स की पहुंच सिर्फ एक मोबाइल नम्बर से ही बन रही थी। इस सुरक्षा खामी की वजह से एयरटैल एप यूजर्स की निजी जानकारी जैसे कि यूजर का नाम, ईमेल, जन्मदिन, घर का पता और डिवाइस के IMEI नम्बर तक हैकर्स की पहुंच बना रही थी।

PunjabKesari

ऐसे पता लगा इस समस्या का 

बेंगलुरु स्थित सिक्योरिटी रिसर्चर एहराज़ अहमद ने कहा है कि इस खामी का पता लगाने में उन्हें सिर्फ 15 मिनट का ही समय लगा है। एयरटैल एप की एप्पलिकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस में पाए जाने वाली इस सुरक्षा खामी से यूजर की डिटेल्स को एक्सैस किया जा सकता था और इसका गलत इस्तेमाल हो सकता था।

PunjabKesari

कम्पनी ने लिया तुरंत एक्शन

एयरटैल एप की API में सामने आए इस टैक्निकल इश्यू के बाद एयरटैल के एक प्रवक्ता ने माना है कि हमारी एप के API में तकनीकी समस्या थी। जैसे ही रिपोर्ट्स के जरिए यह बात हमें पता चली हमने इसे ठीक कर दिया है।

  • आपको बता दें कि 2019 के अंत तक एयरटेल के करीब 32 करोड़ 50 लाख उपभोक्ता थे। वोडाफोन-आइडिया (37 करोड़ 20 लाख) और रिलायंस जियो (35 करोड़ 50 लाख) के बाद ग्राहकों के मामले में एयरटेल तीसरी बड़ी कंपनी है।

PunjabKesari

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News