एंड्रॉयड स्पाइवेयर की चपेट में आईं iOS डिवाइसिस

  • एंड्रॉयड स्पाइवेयर की चपेट में आईं iOS डिवाइसिस
You Are HereGadgets
Thursday, April 11, 2019-9:48 AM

गैजेट डैस्क : कैलिफोर्निया के शहर सैन फ्रांसिस्को में स्थित सिक्योरिटी कम्पनी Lookout ने एक ऐसे स्पाइवेयर का पता लगाया है जिसे थर्ड पार्टी एप्स के जरिए आपके iOS डिवाइस तक पहुंचाया जा रहा है। जिसके बाद यह आपकी iOS डिवाइस पर अटैकर को नजर बनाए रखने में मदद करता है। इस स्पाइवेयर का नाम Exodus बताया गया है जो बहुत तेजी से फैल रहा है। Exodus स्पाइवेयर के जरिए यूजर के फोन में सेव नम्बर्स, फोटोज, वीडियोज, ऑडियो रिकार्डिंग्स, GPS इनफोर्मेशन और डिवाइस लोकेशन को कलैक्ट किया जा सकता है और यह बहुत खतरनाक है। 

  • आपको बता दें कि यह वहीं स्पाइवेयर है जिसने इस साल के शुरू में गूगल प्ले स्टोर को भी अपना शिकार बनाया था। साइबर सिक्योरिटी फर्म Lookout ने बताया है कि इस स्पाइवेयर का iOS वर्जन, एंड्रॉयड वर्जन से कम खतरनाक है, लेकिन ये यूजर के डाटा को नुक्सान पहुंचा सकता है।  

PunjabKesari

जांच पड़ताल से सामने आई जानकारी

EXODUS स्पाइवेयर पर जांच पड़ताल की गई तो पता चला कि इसे इतालवी एप्प निर्माता Connexxa द्वारा बनाया गया है। आपको बता दें कि ये कम्पनी इतालवी अधिकारियों को सर्विलेंस टूल्स भी बेचती है। इसके बारे में पिछले महीने बात सामने आई थी जब सिक्योरिटी विदआउट बोर्डर्स (Security Without Borders) फर्म द्वारा इसके बारे में पता लगाया गया। उन्होंने इस स्पाइवेयर को एक एप्प के अंदर छुपा हुआ पाया था। उस समय इसने लोकल इतालवी सर्विस प्रोवाइडर्स (ISP) को टार्गेट किया था।  

पिछले साल पकड़ी गई 25 एप्स

सिक्योरिटी विदआउट बोर्डर्स फर्म ने बताया है कि उन्होंने 25 अलग-अलग Exodus-स्पाइवेयर से प्रभावित एप्स का पता लगाया है जिन्हें पिछले दो वर्षों में प्ले स्टोर पर उपलब्ध किया गया है। वहीं iOS डिवाइसिस के लिए इस स्पाइवेयर को एप्पल इश्यूड एंटरप्राइज सर्टिफिकेट्स के तहत बनाया गया है ताकि यह एप्प स्टोर से बाहर उपलब्ध होने के साथ आसानी से आपकी iOS डिवाइस में भी इंस्टाल हो जाए। 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh