एप्पल ने लॉक की iPhone की बैटरी रिपेयर, ओरिजिनल बैटरी इंस्टॉल करने में भी आ रही समस्या

  • एप्पल ने लॉक की iPhone की बैटरी रिपेयर, ओरिजिनल बैटरी इंस्टॉल करने में भी आ रही समस्या
You Are HereLatest News
Saturday, August 10, 2019-11:02 AM

गैजेट डैस्क : एप्पल iPhone यूजर्स के लिए एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है। एप्पल के iPhone XS, XR और XS Max की डिस्प्ले पर एक मौसेज शो हो रहा है जिसमें लिखा है कि अगर उन्होंने आईफोन की बैटरी को एप्पल के सर्विस सैंटर से नहीं रिप्लेस करवाया है तो उन्हें बैटरी को तुरंत एप्पल के ऑथराइज्ड सर्विस सैंटर से बदलवाने की जरूरत है। माना जा रहा है कि एप्पल ने iPhone की बैटरी रिपेयर को लॉक किया हुआ है जिस वजह से यूजर्स को परेशानी हो रही है। 

इन iOS वर्जन्स में आ रही समस्या

बैटरी रिप्लेस करवाने से जुड़ा यह मैसेज iOS 12 और iOS 13 के beta वर्जन में शो हो रहा है। हैरानी की बात तो यह है कि यह मैसेज तब भी दिख रहा है जब यूजर ने ऑरिजनल बैटरी इंस्टाल करवाई है। 

PunjabKesari

बैटरी हैल्थ मैन्यू में शो होता है मैसेज

आईफोन की डिस्प्ले पर सर्विस मैसेज आने पर जब आप बैटरी हेल्थ मीन्यू ओपन करेंगे तो इम्पोर्ट बैटरी मैसेज शो होगा। इस मैसेज में लिखा है कि बैटरी जैनुईन है या नहीं इस बात को वैरीफाई करने में समस्या आ रही है। 

बैटरी बदलने की है जरूरत यह नहीं बता सकता iPhone - iFixit

रिपेयर पार्ट्स निर्माता कम्पनी iFixit ने पता लगाया है कि यह मैसेज बैटरी की फंक्शनैलिटी को लेकर नहीं शो हो रहा क्योंकि यह बताना बहुत कठिन है कि बैटरी को बदलने की आवश्यकता है। बैटरी में किसी भी तरह की समस्या होने पर फोन आपको यह तो बता सकता है कि इसे सर्विसिंग की जरूरत है, लेकिन इससे ज्यादा नहीं। उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि अगर कार में ऑयल चेंज इंडीगेटर शो होता है तो डिलरशिप्स द्वारा कार का ऑयल बदलने पर ही यह ठीक होता है। एप्पल ने फिलहाल इस समस्या को लेकर कोई जवाब नहीं दिया है। 

PunjabKesari

क्या चाहती है एप्पल

एप्पल कहती है कि आईफोन की बैटरी को थर्ड पार्टी रिपेयर शॉप्स से बदलवाने पर यह समस्या आती है। एप्पल चाहती है कि लोग कम्पनी के सर्विस स्टेशन्स से ही बैटरी को रिप्लेस करवाएं इसी लिए इस तरह की वार्निंग शो हो रही है। 

पहले भी विवादों के घेरे में फंस चुकी है एप्पल

इससे पहले भी एप्पल इसी तरह के मुद्दे को लेकर विवादों के घेरे में फंस चुकी है। वर्ष 2017 में एप्पल ने अपने ऑपरेटिंग सिस्टम iOS में बदलाव किया था जिससे आईफोन्स की बैटरी जल्दी खत्म होने लग गई थी। कम्पनी की आलोचना होने के बाद एप्पल ने बैटरी की कीमत में कमी कर बैटरी रिप्लेसमेंट प्रोग्राम को शुरू किया था। जिसके बाद लोगों ने नए आईफोन की बजाए अपने पुराने आईफोन को ही रिपेयर करवा लिया था। 

PunjabKesari

डिवाइस की आसानी से रिपेयर होना काफी जरूरी है। आप जरूरत पड़ने पर अगर कम्पोनैंट्स को रिमूव करते हैं तो इससे डिवाइस लम्बे समय तक चलती है और इससे आपके पैसे खराब होने से बच जाते हैं। 
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh