Avast ने लाखों डॉलर्स में बेचा यूजर्स का डेटा, जानें क्या है पूरा मामला

  • Avast ने लाखों डॉलर्स में बेचा यूजर्स का डेटा, जानें क्या है पूरा मामला
You Are HereGadgets
Wednesday, January 29, 2020-11:31 AM

गैजेट डैस्क: दुनिया भर में जानी-मानी एंट्री वायरस कम्पनी Avast गलत कारणों के चलते विवादों के घेरे में फंस गई है। रिपोर्ट के मुताबिक कम्पनी ने अपने यूजर्स का डेटा दुनिया की बड़ी टेक कंपनियों को बेच दिया है। ऑनलाइन वैबसाइट मदरबोर्ड ने जांच के दौरान पता लगाया है कि Avast ने लाखों डॉलर कमाने के लालच में यूजर्स का डेटा गूगल और माइक्रोसॉफ्ट जैसी दूसरी बड़ी कंपनियों को बेचा है।

ऐसे हो रहा था यूजर्स का डेटा ट्रांसफर

दुनियाभर में Avast एंटी वायरस यूजर्स के डेटा को कंप्यूटर्स से कलेक्ट करने के बाद इसे सहायक कम्पनी Jumpshot में ट्रांसफर किया जाता था। इस डेटा को जंपशॉट एक बंडल में तैयार कर उन कम्पनियों को बेच देती थी जो ग्राहकों के डेटा को अपने प्रॉडक्ट और टारगेटिड ऐड्स में यूज करती हैं। कुछ मामलों में यह डेटा लाखों डॉलर की कीमत में बेचा गया है। 

आखिर क्यों बड़ी कम्पनियों को ही बेचा गया डेटा

Avast ने जिन कम्पनियों को डेटा बेचा उनमें गूगल, इनट्रूिट, माइक्रोसॉफ्ट, एक्सपीडिया और लॉरिएल जैसे कंपनियां मौजूद हैं।

किस तरह का डेटा किया गया चोरी

बेचे गए डेटा में यूजर्स के गूगल सर्च, मैप्स पर लोकेशन सर्च के साथ ही लिंक्डइन व यूट्यूब पर की गई ऐक्टिविटी की जानकारी शामिल है। इतना ही नहीं यूजर्स द्वारा सर्च की गई पॉर्न वेबसाइट्स का डेटा भी कम्पनियों को बेचा गया है।

यूजर्स को नहीं थी किसी भी तरह की जानकारी

Avast डेटा कलैक्ट करने के लिए यूजर्स को डेटा शेयरिंग को असैप्ट करने को कहती थी। यूजर्स को नहीं पता था कि Avast उनका डेटा किसी अन्य वैबसाइट को बेचने वाली है।

इस डील से मुकर रहीं माइक्रोसॉफ्ट

Avast द्वारा डेटा लीक होने की खबर सामने आने पर कुछ कम्पनियों ने इस मामले से किनारा कर लिया है। माइक्रोसॉफ्ट का कहना है कि उसका अब जंपशॉट से कोई संबंध नहीं है। वहीं गूगल ने अब तक इस मामले में अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News