EU एंटी-ट्रस्ट रेगुलेटर्स द्वारा Facebook के Libra क्रिप्टोकोर्रेंसी प्रोजेक्ट की जाँच हुई शुरू

  • EU एंटी-ट्रस्ट रेगुलेटर्स द्वारा Facebook के Libra क्रिप्टोकोर्रेंसी प्रोजेक्ट की जाँच हुई शुरू
You Are HereGadgets
Wednesday, August 21, 2019-6:16 PM

गैजेट डेस्क : मार्क ज़ुकरबर्ग की कंपनी फेसबुक के लिब्रा क्रिप्टोक्यूरेंसी प्रोजेक्ट की फिर से जांचा की जा रही है जिससे इसके ऊपर संदेह और गहरा गया है। इस बार यूरोपियन यूनियन एंटीट्रस्ट रेग्युलेटर्स द्वारा लिब्रा प्रोजेक्ट की जांच की जा रही है । 


यूरोपीय आयोग ने कहा कि वह "वर्तमान में संभावित एंटी मार्किट कॉम्पिटिटिव बिहेवइयर की जांच कर रहा है जो लिब्रा एसोसिएशन से संबंधित है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार इस महीने भेजे गए एक प्रश्नावली में यूरोपीय संघ प्राधिकरण ने चिंता व्यक्त की कि फेसबुक के लिब्रा एसोसिएशन ने गलत तरीके से प्रतिद्वंद्वियों को मार्किट से बाहर कर दिया जिसका कारण है उनका बाज़ार विरोधी कार्य और नीतियां। 


फेसबुक पर जांच शुरू लेकिन गाज गिरेगी दूर तक 

 

Image result for facebook libra eu

 

यूनियन एंटीट्रस्ट रेग्युलेटर्स द्वारा की जा रही यह जाँच अभी भी अपने शुरुआती चरणों में है लिब्रा एसोसिएशन के अडमिंस्ट्रेटिव स्ट्रक्चर और मेम्बरशिप प्रोफाइल की जांच कर रही है। फेसबुक की यह उद्देश्य-निर्मित, स्वतंत्र और नॉन -प्रॉफिट संस्था कंपनी की प्रस्तावित क्रिपोटकर्रेंसी लिब्रा को नियंत्रित करने के लिए बनाई गई है। इस संस्था के संस्थापक सदस्यों में मास्टरकार्ड, पेपैल, वीज़ा, ईबे, स्पॉटिफ़, उबेर और लिफ़्ट शामिल हैं।

 

Image result for facebook libra eu


ब्लूमबर्ग के अनुसार, नियामकों को डर है कि जिस तरह से डेटा और इनफार्मेशन का आदान-प्रदान किया जाएगा और वह उपभोक्ता डेटा के अनैतिक उ पयोग चलते  "संभव बाजार प्रतिस्पर्धा प्रतिबंध" को पैदा कर सकता है। विदित हो कि फेसबुक ने वादा किया है कि जब तक नियामक ऑनबोर्ड मंज़ूरी प्रदान नहिओ नहीं करेंगे तब तक लिब्रा क्रिप्टोकररेन्सी को मार्किट में उपलब्ध नहीं कराएगा। 


 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Harsh Pandey