Face App ने बढ़ाई अमेरिका की टेंशन, चुरा सकती है आपका प्राइवेट डाटा

  • Face App ने बढ़ाई अमेरिका की टेंशन, चुरा सकती है आपका प्राइवेट डाटा
You Are HereTop Stories
Thursday, July 18, 2019-4:34 PM

गैजेट डैस्क : इन दिनों सोशल मीडिया पर FaceApp सबसे ज्यादा चर्चा का विषय बनी हुई है। सिलेब्रिटीज़ से लेकर आम यूजर तक हर कोई इस एप का इस्तेमाल कर अपने बुढ़ापे की तस्वीर को देख रहा है और उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर रहा है। डिवैल्पर्स का मनना है कि यह एप यूजर्स के स्मार्टफोन द्वारा क्लिक की गई सभी फोटोज़ को अपने सर्वर पर अपलोड कर देती है जिसके बारे में यूजर को भनक तक नहीं लगती, जिससे आपकी प्राइवेसी को खतरा है। यही नहीं FaceApp ने अमेरिका की टेंशन भी बढ़ा दी है। 

PunjabKesari

 

रशियन डिवैलपर्स ने बनाई है यह एप

बहुत कम लोग जानते हैं कि फेसएप को रशियन डिवैलपर्स द्वारा तैयार किया गया है। इस एप को वर्ष 2017 में लॉन्च किया गया था और अब इतने वर्षों के बाद यह एप अपने ओल्ड फिल्टर की वजह से वायरल हो गई है। सोशल मीडिया पर फिल्म स्टार से लेकर क्रिकेट्स, फुटबॉलर्स और कई अन्य सिलेब्रिटीज़ की बुढ़ापे वाली तस्वीरे वायरल हुई हैं। हालत यह हो गई है कि फेसबुक पर लोगों की पूरी टाइमलाइन बुढ़ापे वाली फोटो से भर गई हैं।

PunjabKesari


रशियन एप पर उठाए अमरीका ने सवाल, FBI को जांच करने के लिए कहा

रशिया की फेसएप को लेकर अमरीका ने यूजर की प्राइवेसी और सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं। अमरीकी सीनेट के अल्पसंख्यक नेता चक शूमर ने एफबीआई और फेडरल ट्रेड कमीशन को एक पत्र भेजकर इस एप की जांच की मांग की है। इसमें फेसएप को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताया गया है क्योंकि इसे रूस ने तैयार किया है। इस एप के जरिए हैकर्स की पहुंच लाखों अमरीकी नागरिकों के फोन तक हो गई है जिससे राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ हो सकता है।

PunjabKesari

किस तरह काम करती है यह एप

FaceApp AI यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक की मदद से व्यक्ति को जवान या बूढ़ा दिखाती है, लेकिन इसके लिए यह आपसे फोन के डाटा की परमिशन ले लेती है। iOS या एंड्रॉयड स्मार्टफोन पर इस एप के जरिए तस्वीर को क्लिक करने के बाद यह उसे अपने सर्वर पर सेव कर देती है जिसके बाद इस पर फिल्टर लगाए जाते हैं। 

 

कैसे पैदा हो रहा यूजर को खतरा

फेसएप डाटा को अपने सर्वर में सेव करती है जिसका इस्तेमाल भविष्य में सार्वजनिक रूप से किया जा सकता है। एप की पॉलिसी से पता लगता है कि यह आपके डाटा का इस्तेमाल टेलिमार्केटिंग और ऐड्स दिखाने के लिए कर सकती है। 

PunjabKesari

फेसएप ने दी प्रतिक्रिया

फेसएप ने कहा है कि कम्पनी को कई यूजर्स की रिकवैस्ट मिलीं है जिनमें उन्होंने अपने डाटा को कम्पनी के सरवर से रिमूव करने की बात कही है। फेसएप डाटा को रशिया में ट्रासफर नहीं कर रही है। वहीं डाटा की सारी प्रोसैसिंग कलाउड सर्वर पर की जाती है। हम सिर्फ उसी फोटो को अपलोड करते हैं जो एप से खुद क्लिक की गई हो। अपलोड की तारीख के 48 घंटों के भीतर ही फोटो को हम अपने सरवर से डिलीट कर देते हैं। 
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh