फ्रांस ने गूगल पर लगाया 407 करोड़ का जुर्माना

  • फ्रांस ने गूगल पर लगाया 407 करोड़ का जुर्माना
You Are HereGadgets
Wednesday, January 23, 2019-10:50 AM

- प्राइवेसी रूल उल्लंघन करने का लगा आरोप

गैजेट डैस्क :  फ्रांस की डाटा प्रोटैक्शन अथॉरिटी CNIL ने गूगल पर 57 मिलियन डॉलर (लगभग 407 करोड़ रुपए) का जुर्माना लगाया है। गूगल पर आरोप है कि उसने यूरोपियन यूनियन के ऑनलाइन प्राइवेसी रूल्स का उल्लंघन किया है जिस कारण इस तकनीकी दिग्गज कम्पनी के खिलाफ सबसे बड़ा जुर्माना लगाया गया है। CNIL ने कहा है कि दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन यह बताने में असफल हुआ है कि यूज़र के पर्सनल डाटा को कैसे वह हैंडल कर रहा है व इसका विज्ञापन दिखाने के लिए किस तरह यूज़ होता है। CNIL ने बताया है कि गूगल ने ‘‘कई दस्तावेजों में विज्ञापन लक्ष्यीकरण से जुड़ी जानकारी को फैलाया है।’’ जिस कारण यह अहम कदम उठाया गया है। 

PunjabKesari

इस कारण बढ़ी सख्ती

पहली बार जनरल डेटा प्रोटैक्शन रैगुलेशन (GDPR) का इस्तेमाल कर यह जुर्माना लगाया गया है, जिसे गत मई में ही लागू किया गया था। यह यूज़र को उनके निजी डाटा पर बेहतर कन्ट्रोल करने व डाटा पालिसीज का उल्लंघन होने पर रैगुलेटर्स को कम्पनी के ग्लोबल रैवेन्यू का 4 प्रतिशत तक फाइन लगाने की अनुमति देता है। 

PunjabKesari

गूगल ने दी प्रतिक्रिया

रिउटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक गूगल ने एक स्टेटमैंट को जारी कर कहा है कि फ्रांस की संस्था की तरफ से जुर्माना लगाए जाने के बाद हम इस फैसले को पढ़ रहे हैं जिसके बाद आगे की कार्रवाई तय की जाएगी। हमारे यूज़र्स हमसे पारदर्शिता और नियंत्रण की उम्मीद करते हैं और हम उनकी उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

PunjabKesari

CNIL संस्था ने कहा जायज है फाइन

फ्रांस के डाटा अथॉरिटी कमीशन CNIL का कहना है कि गूगल पर जो फाइन लगाया है वह पूरी तरह से जायज है क्योंकि कम्पनी ने कई सिद्धांतों का उल्लंघन किया है।     
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh