फेसबुक और ट्विटर पर रशिया ने किया सिविल केस

  • फेसबुक और ट्विटर पर रशिया ने किया सिविल केस
You Are HereGadgets
Wednesday, January 23, 2019-11:35 AM

- पूछा क्यों देश के अंदर नहीं स्टोर हो रहा डाटा   

- कानूनों का उल्लंघन कर रहीं दोनों कम्पनियां

गैजेट डैस्क :  रशिया ने फेसबुक और ट्विटर के खिलाफ एक सिविल केस किया है। आरोप है कि दोनों कम्पनियां एक महीने की समय अवधि में यह बताने में असमर्थ हो गई हैं कि वे देश के बार्डर के अंदर अपना डाटा सेव क्यों नहीं कर रही हैं। ऐसा होने पर देश के डाटा कानूनों का उल्लंघन हुआ है और इन पर सिविल केस किया गया है। कम्युनिकेशन वॉच-डॉग Roskomnadzor ने बताया है कि दोनों सोशल मीडिया कम्पनियां यह समझाने में विफल रही हैं कि रूस के बाहर के डाटा सैंटर्स में रूसी नागरिकों के डाटा को क्यों सेव किया जा रहा है और यह रशिया में क्यों नहीं हो रहा। Interfax न्यूज़ एजैंसी के हैड एलेक्जैंडर जहरोफ ने बताया है कि कम्पनियों को एक महीना दिया गया था कि वे इस मुद्दे पर अपने विचार प्रकट करें लेकिन इस दौरान ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। 

PunjabKesari

रूस के सख्त कानून

ऑनलाइ न्यूज़ वैबसाइट इंडिपैंडैंट की रिपोर्ट के मुताबिक रूस ने पिछले पांच वर्षों में सख्त इंटरनैट कानून पेश किए हैं। इनमें सर्च इंजन्स को कुछ सर्च रिजल्ट्स को दिखाना बंद करने से लेकर रशियन नागरिकों का डाटा उनके देश में ही सेव करने तक शामिल हैं।

  • आपको बता दें कि पहले से ही फेसबुक और ट्विटर को लेकर रशिया का रिश्ता सही नहीं रहा है। विशेष रूप से वर्ष 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के बाद रशिया से जुड़े अकाऊंट्स का उपयोग गलत सूचना फैलाने के लिए किया गया, वहीं डोनाल्ड ट्रम्प के पक्ष में परिणाम को इसने प्रभावित किया। 

PunjabKesari

डिलीट हुए फेसबुक पेज व ट्विटर अकाऊंट्स

पिछले साल फेसबुक ने ‘अमानवीय’ या ‘छेड़छाड़’ व्यवहार वाले 650 पेजिस और ग्रुप्स को डिलीट किया है, वहीं ट्विटर ने भी 284 ट्विटर अकाऊंट्स को सस्पैंड किया है। इस दौरान फेसबुक ने कहा था कि हम इस तरह के अकाऊंट बैन कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि लोगों का भरोसा हमारे ऊपर बना रहे। 

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh