फ्रॉड करने वालों ने चोरी किया Flipkart व Myntra का कस्टमर डाटा

  • फ्रॉड करने वालों ने चोरी किया Flipkart व Myntra का कस्टमर डाटा
You Are HereGadgets
Sunday, December 1, 2019-12:22 PM
  • इसी डाटा के सहारे लोगों को दे रहे थे झांसा
  • नोएडा पुलिस ने 45 लोगों को किया अरेस्ट

गैजेट डैस्क: पिछले कुछ महीनों में ढेरों यूजर्स ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान फ्रॉड का शिकार हुए हैं। सामने आया है कि स्कैमर ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स पर दी गई यूजर्स की डिटेल्स का सहारा लेकर लोगों को झांसा देकर उन्हें शिकार बना रहे थे।

  • नोएड में इसी तरह के एक फर्जी कॉल सेंटर को बंद करवाया गया है और यूजर्स को फ्रॉड कॉल्स कर फंसाने के आरोप में 45 लोगों को अरेस्ट किया गया है, जिनमें से 22 महिलाएं हैं।
  • पुलिस ने बताया है कि इन लोगों के पास फ्लिपकार्ट और मिन्त्रा के ढेरों ग्राहकों की कस्टमर्स डीटेल्स का ऐक्सैस था।

PunjabKesari

स्कैमर्स ने जुटाई थी इस तरह की जानकारी

नोएडा पुलिस की साइबर क्राइम ब्रांच के सब-इंस्पेक्टर बलजीत सिंह ने द टाइम्स ऑफ इंडिया को अपनी रिपोर्ट में बताया है कि फ्रॉड कॉल सेंटर से पकड़े गए स्कैमर्स के पास ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स के ढेरों ग्राहकों का डाटा था। इसमें यूजर्स के नाम, ईमेल आईडी से लेकर शिपिंग अड्रेस और ऑर्डर आईडी तक शामिल थीं। इसके अलावा स्कैमर्स के पास फ्लिपकार्ट और मिन्त्रा पर कस्टमर्स की ओर से खरीदे गए प्रॉडक्ट्स की हिस्ट्री का डाटा भी मौजूद था।

PunjabKesari

फ्लिपकार्ट और मिन्त्रा पर उठे सवाल

ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स फ्लिपकार्ट और मिन्त्रा की तरफ से अभी इस मामले को लेकर कोई जवाब नहीं आया है। सवाल यह उठता है कि क्या उन्हें इस शॉपिंग साइट्स की ओर से इस डाटा का ऐक्सेस मिला हुआ था या फिर किसी गलत तरीके से ऐसे स्कैमर्स ने डाटा तक पहुंच बनाई थी।

PunjabKesari

इस तरह कर रहे थे लोगों के साथ फ्रॉड

फ्रॉड करने वाले ये स्कैमर्स पहले लोगों को कॉल करते थे और उन्हें उनकी ही डिटेल्स बताते थे जोकि इन शॉपिंग साइट्स से इकट्ठा की गई थीं। ऐसे में उन्हें भरोसा हो जाता था कि यह कॉल कस्टमर सर्विस डिपार्टमेंट की ओर से ही आई है।

  • इसके बाद यूजर्स से किसी ऑफर या लकी ड्रॉ की बात कहकर बैंकिग डीटेल्स ली जाती थी जिससे वह फ्रॉड का शिकार बन जाते थे।

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh