आंखों या कैमरे को नुकसान पहुंचाए बिना इस तरह कैप्चर करें 2020 सूर्य ग्रहण

You Are HereGadgets
Friday, June 19, 2020-5:25 PM

गैजेट डैस्क: इस साल का पहला सूर्यग्रहण 21 जून को लगने वाला है। timeanddate.com के मुताबिक सूर्य ग्रहण सबसे पहले सुबह 9:15 बजे दिखाई देगा, वहीं इसे दुनिया भर में दोपहर के 3:04 बजे तक देखा जा सकेगा।

भारत में ग्रहण सुबह 10.46 बजे से दिखाई देगा। सबसे बड़ी बात यह है कि सूर्य ग्रहण छह घंटों तक रहेगा। पूर्ण ग्रहण सुबह 10:17 बजे शुरू होगा और दोपहर 2:02 बजे तक दिखाई देगा। अधिकतम ग्रहण दोपहर 12:10 बजे होगा। अगर आप सूर्य ग्रहण को अपने घर की छत या बालकनी से देखने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको सबसे पहले योजना बनाने की जरूरत है।

आज हम आपके लिए कुछ ऐसे टिप्स लेकर आए हैं जिनकी मदद से अगर आप सूर्य ग्रहण की झलक देखेंगे तो आपकी आंखें या फिर फोटोग्राफ खीचते समय आपके कैमरे को कोई नुक्सान नहीं होगा। आज हम आपको सूर्य ग्रहण को देखते समय आंखों की सुरक्षा के साथ-साथ कैमरा लगाने के कुछ सुझाव देने वाले हैं।

PunjabKesari



सबसे पहले, अपनी आंखों का करें बचाव!

कभी भी सूर्य ग्रहण को नंगी आंखों से ना देखें। इससे आपकी आंख की प्यूपिल्स डैमेज हो सकती हैं, वहीं आप यहां तक कि पूरी तरह से अंधे भी हो सकते हैं। इतनी तेज रोशनी में चश्मा भी काम नहीं करेगा। इसी लिए आपको प्रॉपर आई प्रोटेक्शन की जरूरत है। यानी आप एक्लिप्स ग्लास या फिर सन फिल्टर की मदद से इसे देख सकते हैं।  

सूर्य ग्रहण देखने का सबसे अच्छा तरीका है रेज़ को फ़िल्टर करना Timeanddate.com has a simple DIY pinhole projector जिसे आप इस लिंक के जरिए आजमा सकते हैं।

PunjabKesari


क्या फोन के कैमरे से कैप्चर किया जा सकता है ग्रहण?

फोन के कैमरे से सूर्य ग्रहण को कैप्चर किया जा सकता है लेकिन आपको अच्छे रिजल्ट्स नहीं मिलेंगे। इसका कारण यह है कि अगर आपके पास सुपर एक्सपेंसिव टॉप नॉच वाला फोन भी है तब भी इसमें आपको छोटा सैंसर ही मिलता है। इन्हें कम्पैक्ट कैमरे के तौर पर उपयोग किया जा सकता है लेकिन यह सूर्य ग्राहण की फोटोग्राफी के लिए कंपार्टेबल नहीं हैं।

यह जानने के बाद भी आपको निराश होने की जरूरत नहीं है। NASA ने कुछ गाइडलाइन्स दी हैं जिनकी मदद से आप सूर्य ग्रहण को सावधानी के साथ फोन से भी कैप्चर कर पाएंगे, लेकिन इसके लिए आपको कुछ प्रैक्टिस करने की जरूरत होगी। 

1. पहले आप चांद की फोटो कैप्चर करने की प्रैक्टिस करें।

2. चांद की या फिर सूर्य ग्राहण की फोटो कैप्चर करते समय आपको फोकल लेंथ, शटर स्पीड और अपर्चर को अडजस्ट करना होगा। तभी आप रविवार के लिए तैयार हो पाएंगे।

3. फोन के कैमरे से मैनुअल फोकस करना सीखें क्योंकि ऑटोफोकस ऐसी स्थिती में काम ही नहीं करेगा।

4. फोन के डैमेज होने के बारे में चिंता करने की आपको कोई जरूरत नहीं है। इन सेटिंग्स को फॉलो करेंगो तो फोन को कुछ नहीं होगा। 

PunjabKesari

क्या DSLRs से खींची जा सकती है बेहतर तस्वीरें?

DSLRs एक प्रोफेशनल इक्विपमेंट है और यह ऐसी स्थिती में सबसे ज्यादा सूटेबल भी है। अगर आपके पास DSLR कैमरा है तो आपको अपने कैमरे के लैंस के फ्रंट में एक्लिप्स फिल्टर लगा लेना चाहिए नहीं तो कैमरे का लैंस व साथ-साथ कैमरा बॉडी भी डैमेज हो सकती है। 

1. DSLR कैंमरे के फोकस को चांद की फोटो खींचने के लिए एक्सपैरिमेंट के तौर पर उपयोग करें।

2. फोटो खीचते समय आपके पास बड़ा लैंस होना बहुत जरूरी है। 

3. यह लैंस कम-से-कम 400mm की फोकल लेंथको सपोर्ट करने वाला होना चाहिए।

4. अगर आपको क्लियर, स्टैंड फोटोज चाहिएं तो आप इस दौरान एक ट्राइपोड का भी इस्तेमाल जरूर करें।

5. फोटोज़ क्लिक करते समय आप बीच-बीच में थोड़ा ब्रेक लेते रहें। 

6. ध्यान में रखें कि इस दौरान सन रेंज़ बहुत पावरफुल होती हैं और जब वे कैमरे पर पड़ती हैं तो इससे कैमरा बहुत तेजी से गर्म हो सकता है और डैमेज भी हो सकता है। इसी लिए कैमरे को भी ब्रेक देने की जरूरत है। 

NASA सूर्य ग्राहण को डिफाइन करते हुए कहता है कि यह तब होता है जब चंद्रमा पृथ्वी से सबसे दूर होता है। यही कारण है कि यह छोटा लगता है और सूर्य को पूरी तरह से ब्लॉक कर देता है।   
 

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!Edited by:Hitesh

Popular News